Home /News /nation /

EXPLAINED: जॉनसन एंड जॉनसन की सिंगल डोज वैक्सीन में क्या है खास? जानिए हर सवाल का जवाब

EXPLAINED: जॉनसन एंड जॉनसन की सिंगल डोज वैक्सीन में क्या है खास? जानिए हर सवाल का जवाब

जॉनसन एंड जॉनसन से पहले दुनिया की कई कंपनियों ने दावा किया है कि उनकी वैक्सीन कोरोना की डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ असरदार है. (सांकेतिक तस्वीर)

जॉनसन एंड जॉनसन से पहले दुनिया की कई कंपनियों ने दावा किया है कि उनकी वैक्सीन कोरोना की डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ असरदार है. (सांकेतिक तस्वीर)

Johnson & Johnson: सिंगल डोज वाला टीका गंभीर या बहुत गंभीर बीमारी के खिलाफ 85% असरदार पाया गया है. कंपनी का दावा है वैक्सीन की डोज़ लेने के बाद अस्पताल जाने की जरूरत नहीं पड़ती है.

    नई दिल्ली. भारत में जल्द ही जॉनसन एंड जॉनसन (Johnson & Johnson)  की सिंगल डोज वैक्सीन लॉन्च हो सकती है. फिलहाल कंपनी की सरकार से बातचीत चल रही है. इस बीच कंपनी ने दावा किया है कि उनकी वैक्सीन खतरनाक डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ भी असरदार है. अमेरिकी खाद्य और औषधि प्रशासन (यूएसएफडीए) ने फरवरी में जॉनसन एंड जॉनसन के कोविड-19 रोधी टीके को मंजूरी दे दी थी. जबकि ब्रिटेन में नियामकों ने देश में उपयोग के लिए इसे 28 मई को हरी झंडी दी थी.

    आईए विस्तार से जानते हैं कि ये वैक्सीन कोरोना के खिलाफ कितनी असरदार है. साथ ही क्या सिंगल डोज़ के बाद किसी बूस्टर की ज़रूरत भी पड़ेगी.

    >>सिंगल डोज वाला टीका गंभीर या बहुत गंभीर बीमारी के खिलाफ 85% असरदार पाया गया है. कंपनी का दावा है वैक्सीन की डोज़ लेने के बाद अस्पताल जाने की जरूरत नहीं पड़ती है.

    >>कंपनी ने दावा किया है कि ये वैक्सीन दक्षिण अफ्रीका और ब्राज़ील में भी काफी असरदार दिखी है. स्टडी में कहा गया है कि इन दोनों देशों में दूसरे वेरिएंट के केस भी काफी ज़्यादा थे.

    >>वैक्सीन की एक खुराक डेल्टा (बी.1.617.2), बीटा (बी.1.351), गामा (पी.1) वेरिएंट सहित सार्स-सीओवी-2 वेरिएंट की एक सीरीज़ के खिलाफ एंटीबॉडी बनाती है.

    >कंपनी का कहना है कि कम से कम एक साल तक बूस्टर डोज़ की जरूरत नहीं पड़ेगी.

    भारत में कब होगी लॉन्च?
    भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने अब क्लीनिकल स्टडीज की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है. लिहाजा़ जॉनसन एंड जॉनसन जल्द इसे भारत में लॉन्च करने की तैयारी में है. कंपनी ने कहा कि वैक्सीन को लेकर उसकी केंद्र सरकार से बातचीत भी चल रही है.

    डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ और कौन-कौन सी वैक्सीन है असरदार?
    जॉनसन एंड जॉनसन से पहले दुनिया की कई कंपनियों ने दावा किया है कि उनकी वैक्सीन कोरोना की डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ असरदार है.
    >>अमेरिका की दोनों वैक्सीन फ़ाइज़र और मॉर्डना ने दावा किया है कि उनके टीके डेल्ट वेरिएंट के खिलाफ असरदार है.
    >>भारत सरकार ने कहा है कि कोविशील्ड और कोवैक्सिन अल्फा, बीटा, गामा और डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ प्रभावी है,
    >>रूस की वैक्सीन स्पूतनिक वी ने कहा कि उनका टीका डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ 90 फीसदी असरदार है.

    Tags: Corona vaccine, Covid-19 vaccine

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर