जेपी नड्डा होंगे भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष, पार्टी चीफ बने रहेंगे अमित शाह

पार्लियामेंट्री बोर्ड की बैठक में जेपी नड्डा को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया. आगामी संगठन के चुनाव जेपी नड्डा की अध्यक्षता में होंगे.

News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 10:10 PM IST
जेपी नड्डा होंगे भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष, पार्टी चीफ बने रहेंगे अमित शाह
पार्लियामेंट्री बोर्ड की बैठक में जेपी नड्डा को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया. आगामी संगठन के चुनाव जेपी नड्डा की अध्यक्षता में होंगे.
News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 10:10 PM IST
भारतीय जनता पार्टी ने जगत प्रकाश नड्डा को पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया है. सोमवार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हुई पार्लियामेंट्री बोर्ड की बैठक में जेपी नड्डा के नाम पर सहमति बनी है. आगामी संगठन के चुनाव जेपी नड्डा की अध्यक्षता में होंगे.

नड्डा के कार्यकारी अध्यक्ष चुने जाने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अमित शाह ने पांच साल तक पार्टी अध्यक्ष का दायित्व सफलतापूर्वक निभाया है. अमित शाह जी के नेतृत्व में पार्टी ने कई चुनाव जीते हैं. अब अमित शाह गृहमंत्री हैं इसलिए उन्होंने किसी और को अध्यक्ष का दायित्व देने का आग्रह किया है.

गृह मंत्री अमित शाह ने जेपी नड्डा को ट्वीट कर बधाई दी है. उन्होंने लिखा-
भाजपा संसदीय बोर्ड द्वारा श्री जेपी नड्डा जी को सर्वसम्मति से कार्यकारी अध्यक्ष चुने जाने पर उन्हें बधाई देता हूँ। मुझे पूर्ण विश्वास है कि उनके नेतृत्व में पार्टी निरंतर सशक्त होगी और हम मोदी सरकार की कल्याणकारी नीतियों और संगठन की विचारधारा को देश के कोने-कोने में पहुँचाएँगे।




मंत्री पद न मिलने के बाद से हो रही थी चर्चा
बता दें मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में जेपी नड्डा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री रह चुके हैं. इस सरकार में उन्हें कैबिनेट मंत्री का पद नहीं मिला है. इसके बाद से ही माना जा रहा था कि उन्हें कोई बड़ा पद मिल सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह के समय से ही नड्डा को पार्टी का अध्यक्ष बनाने के कयास लगाए जा रहे थे. हालांकि अमित शाह अगले 6 महीने तक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने रहेंगे और इस साल के अंत में होने वाले महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड विधानसभा चुनावों में पार्टी का नेतृत्व करेंगे.
Loading...



कौन हैं नड्डा
हिमाचल प्रदेश के एक ब्राह्मण परिवार से आने वाले जेपी नड्डा पार्टी के बड़े नेताओं में गिने जाते हैं. नड्डा भाजपा की पितृ संस्था राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का विश्वसनीय चेहरा माने जाते हैं. नरेंद्र मोदी सरकार के कार्यकाल में स्वास्थ्य मंत्री रहे 58 साल के नड्डा अपनी लो-प्रोफाइल को बनाए रखने की वजह से कार्यकारी अध्यक्ष के तौर पर चुने गए हैं. अब पार्टी और सरकार के बीच सामंजस्य बनाकर काम करेंगे और अमित शाह के एजेंडा को आगे लेकर जाएंगे.

भाजपा के संसदीय बोर्ड के सदस्य हैं नड्डा
नड्डा भाजपा के संसदीय बोर्ड के सदस्य हैं, इसके साथ ही वह पार्टी के शीर्ष निर्णय लेने वाले निकाय के सबसे महत्वपूर्ण सदस्य हैं. मास्टर रणनीतिकार के रूप में जाने जाने वाले नड्डा को हाल ही में संपन्न चुनावों में उत्तर प्रदेश का प्रभार दिया गया, जिसमें पार्टी ने राज्य की 80 लोकसभा सीटों में से 62 सीटें हासिल कीं.

पटना के सेंट जेवियर्स स्कूल से शिक्षा ग्रहण करने के बाद नड्डा ने पटना कॉलेज, पटना विश्वविद्यालय से बीए किया. इसके बाद हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय, शिमला से एलएलबी किया. वह हिमाचल विधानसभा में तीन बार विधायक रहे और 2014 में केंद्रीय मंत्री नियुक्त किए जाने पर वह हिमाचल प्रदेश से लोकसभा पहुंचे.

ये भी पढ़ें- राहुल एक साल तक नहीं रहेंगे कांग्रेस अध्यक्ष, करेंगे ये काम

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 17, 2019, 8:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...