अब दूसरी कोर्ट में चलेगा एमजे अकबर द्वारा दायर मानहानि का मुकदमा

कोर्ट ने कहा कि यह मामला किसी सांसद या विधायक के खिलाफ नहीं दर्ज किया गया है. (फाइल फोटो)
कोर्ट ने कहा कि यह मामला किसी सांसद या विधायक के खिलाफ नहीं दर्ज किया गया है. (फाइल फोटो)

मंगलवार को जिला न्यायाधीश (District Judge) से यह मामला दूसरी सक्षम अदालत को सौंपने को कहा. न्यायाधीश ने कहा कि यह अदालत जन प्रतिनिधियों के खिलाफ मामलों की सुनवाई के लिए नामित की गयी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2020, 10:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पत्रकार प्रिया रमानी (Journalist Priya Ramani) के खिलाफ पूर्व केंद्रीय मंत्री एम.जे. अकबर (Mobasher Jawed M.J. Akbar) की आपराधिक मानहानि शिकायत की करीब दो साल से सुनवाई कर रही अदालत ने मंगलवार को जिला न्यायाधीश से यह मामला दूसरी सक्षम अदालत को सौंपने को कहा. न्यायाधीश ने कहा कि यह अदालत जन प्रतिनिधियों के खिलाफ मामलों की सुनवाई के लिए नामित की गयी है.

मामला 'सक्षम अदालत' को स्थानांतरित करने की आवश्यकता
अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट (एसीएमएम) विशाल पाहुजा ने इस साल सात फरवरी को मामले में अंतिम सुनवाई शुरू की थी. उन्होंने कहा कि यह मामला किसी सांसद या विधायक के खिलाफ नहीं दर्ज किया गया है और इसे किसी 'सक्षम अदालत' को स्थानांतरित करने की आवश्यकता है.

यह मामला 'सांसद या विधायक के खिलाफ दायर नहीं किया गया है'
उन्होंने कहा कि उनकी अदालत को 23 फरवरी 2018 को जारी एक परिपत्र के अनुसार सांसदों व विधायकों के खिलाफ दायर मामलों की सुनवाई के लिए नामित किया गया है. यह मामला 'सांसद या विधायक के खिलाफ दायर नहीं किया गया है' इसलिए वह यह मामला दूसरे मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट को सौंपने पर विचार करने के लिए प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश को भेज रहे हैं. अकबर ने मार्च 2018 में रमानी के खिलाफ आपराधिक मानहानि की शिकायत दर्ज कराई थी.



कई महिलाओं ने लगाए थे अकबर पर आरोप, देना पड़ा था इस्तीफा
गौरतलब है कि साल 2018 में #MeToo मूवमेंट के दौरान तत्कालीन विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर पर करीब 20 महिलाओं ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे. जिसके बाद उन्होंने 17 अक्टूबर को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद एमजे अकबर ने उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस दर्ज कराया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज