एस जयशंकर का पाक PM को जवाब-दूसरों के इशारों पर आप काम करते हैं, हम नहीं

एस जयशंकर का पाक PM को जवाब-दूसरों के इशारों पर आप काम करते हैं, हम नहीं
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पाकिस्तान को तीखा जवाब दिया है.

एस, जयशंकर (S Jaishankar) ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि भारत किसी के साथ मिलकर या इशारों पर काम नहीं करता बल्कि ये काम पाकिस्तान करता रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 30, 2020, 5:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S Jaishankar) ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान  (Imran Khan) के वक्तव्य का तीखे शब्दों में जवाब दिया है. उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा है कि भारत किसी के साथ मिलकर या इशारों पर काम नहीं करता बल्कि ये काम पाकिस्तान करता रहा है. गौरतलब है कि हाल में दिए एक साक्षात्कार (Interview) के दौरान पाकिस्तानी प्रधानमंत्री (Pakistan Prime Minister) इमरान खान ने अपने देश का भविष्य चीन (China) के साथ बताया था. उन्होंने कहा था कि ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारत को पश्चिमी देश (Western Countries) अपने हितों के इस्तेमाल कर रहे हैं जिससे चीन को रोका (Contain China) जा सके. इमरान खान का कहना था कि यही वजह है जिसके कारण चीन को पाकिस्तान की जरूरत है. उन्होंने पाकिस्तान की भू-राजनीतिक स्थिति को बेहद महत्वपूर्ण बताया था.

क्या बोले विदेश मंत्री
अब एक इंटरव्यू के दौरान भारतीय विदेश मंत्री ने कहा है कि पाकिस्तान को इसके बारे में ढंग से सोचना चाहिए. भारत बिल्कुल अलग तरीके का सांस्कृतिक देश है. हमारे इतिहास की तरफ देखिए. चूंकि हमने दो सदी तक बहुत मुश्किलें झेलीं इसलिए हम अपनी स्वतंत्रता की बहुत इज्जत करते हैं. कुछ लोगों को लगता है कि उन्होंने कुछ गलत किया तो हम भी ऐसा ही करेंगे. भारत का खुद को लेकर एक निश्चित दृष्टिकोण है.

एस. जयशंकर ने कहा कि भारत के अपने हित हैं. भारत का अपना चरित्र है. इसे किसी के विरुद्ध बताकर नकारात्मक तौर पर नहीं दर्शाया जा सकता.
चीन के साथ सीमा विवाद का फायदा उठाना चाहता है पाकिस्तान


गौरतलब है कि भारत बीते चार महीनों से चीन के साथ सीमा विवाद में उलझा हुआ है. जून महीने के मध्य में हुई गलवान घाटी की घटना ने इस विवाद को और ज्यादा बढ़ा दिया है. ऐसे में पाकिस्तान को चीन से नजदीकी बढ़ाने का ये सबसे मुफीद वक्त लग रहा है. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री की तरफ से लगातार चीन के पक्ष में बयान दिए जाते रहे हैं. लंबे समय से अमेरिका के इशारों पर काम करने वाले पाकिस्तान ने बीते दशक के दौरान अपना सबसे बड़ा साझीदार चीन को बना लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज