अपना शहर चुनें

States

सीमा पर तैनाती से पहले स्पेशल ट्रेन्ड K-9 डॉग कर रहे हैं सैनिकों का कोरोना टेस्ट

सीमा पर तैनाती से पहले सैनिकों का कोरोना टेस्ट कर रहे स्पेशल ट्रेन्ड K-9 डॉग.
सीमा पर तैनाती से पहले सैनिकों का कोरोना टेस्ट कर रहे स्पेशल ट्रेन्ड K-9 डॉग.

Coronavirus Pandemic: भारत में कोरोना वायरस के दैनिक नए मामले इस महीने दूसरी बार 10,000 से कम आए हैं जिससे संक्रमितों की कुल संख्या 1,08,47,304 हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 9, 2021, 4:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनियाभर में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का प्रकोप अभी जारी है. हालांकि रोजाना आने वाले मामलों में भारी गिरावट आई है. भारत में भी कोरोना मरीजों की संख्या में काफी कमी देखने को मिली है, लेकिन इसके बावजूद ऐहतियात बरतना काफी जरूरी है. फिलहाल देश में कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन मुहैया कराई गई है, जिसे बाद में धीरे-धीरे सभी के लिए शुरू किया जाएगा.

वहीं सेना के जवानों के लिए भी खास तरह के के-9 कुत्तों को ट्रेंड किया गया है, जो कि उनका कोरोना टेस्ट कर रहे हैं. के-9 कुत्तों को तरह से ट्रेनिंग दी गई है कि वे गंध के जरिए कोरोना वायरस की पहचान कर सकते हैं. दरअसल सीमा पर तैनाती से पहले इन खास तरह के कुत्तों के जरिए जवानों का कोरोना टेस्ट कराया जा रहा है, जिसके बाद उन्हें सीमा पर भेज दिया जाता है.

फरवरी में दूसरी बार कोरोना वायरस के देश में 10 हजार से कम नए मामले
इस बीच, भारत में कोरोना वायरस के दैनिक नए मामले इस महीने दूसरी बार 10,000 से कम आए हैं जिससे संक्रमितों की कुल संख्या 1,08,47,304 हो गई, जबकि एक दिन में जान गंवाने वाले संक्रमितों की संख्या लगातार चौथे दिन 100 से कम रही. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के हवाले से बताया कि बीते 24 घंटे में 9110 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, जबकि 78 संक्रमितों की मौत हुई है. अबतक 1,55,158 मरीजों की इस वायरस से जान जा चुकी है. संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की संख्या 1,05,48,521 पहुंच गई है. संक्रमण से उबरने की दर 97.25 प्रतिशत है, जबकि कोविड-19 की मृत्यु दर 1.43 है. कोविड-19 का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या दो लाख से कम बनी हुई है. आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का उपचार करा रहे मरीजों की संख्या 1,43,625 है जो कुल मामलों का 1.32 फीसदी है.



अब तक 20 करोड़ से अधिक नमूनों की जांच
भारत में कोविड-19 के मामलों की संख्या बीते साल सात अगस्त को 20 लाख के पार चली गई थी. इसके बाद मामलों की संख्या 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के पार चली गई थी. 28 सितंबर को देश में कुल मामले 60 लाख से अधिक हो गए थे, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को कुल मामलों की संख्या एक करोड़ से अधिक हो गई थी. आईसीएमआर के मुताबिक, सोमवार को 6,87,138 नमूनों की जांच की गई थी. अबतक 20,25,87,758 नमूनों की जांच की जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज