लाइव टीवी

कैलाश विजयवर्गीय का आरोप- भीड़ ने मुझे घेरा, प्रशासन नहीं कर रहा सुनवाई

News18Hindi
Updated: December 18, 2019, 5:21 PM IST
कैलाश विजयवर्गीय का आरोप- भीड़ ने मुझे घेरा, प्रशासन नहीं कर रहा सुनवाई
कैलाश विजयवर्गीय ने भीड़ द्वारा रोके जाने की घटना का वीडियो भी शेयर किया है.

भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) के जनरल सेक्रेटरी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) ने एक वीडियो शेयर किया जिसमें लोगों की भीड़ दिखाई पड़ रही है. विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि भीड़ ने उन्हें घेर लिया और प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2019, 5:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) के मुख्य प्रभारी और पार्टी के जनरल सेक्रेटरी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) को मुर्शिदाबाद (Murshidabad) में घेरे जाने की खबर सामने आई है. विजयवर्गीय ने बुधवार दोपहर को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. कैलाश विजयवर्गीय ने एक वीडियो शेयर किया जिसमें लोगों की भीड़ दिखाई पड़ रही है. विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि भीड़ ने उन्हें घेर लिया और प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा है.

विजयवर्गीय ने एक संप्रदाय विशेष पर आरोप लगाते हुए ट्वीट किया- 'मुर्शिदाबाद जाते हुए मुझे नवग्राम के पास भीड़ ने घेर लिया है. मेरी गाड़ी के दोनों तरफ भीड़ जमा है. प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा! SP और DG भी फ़ोन नहीं उठा रहे! पश्चिम बंगाल में अराजक सरकार के रहते कुछ भी हो सकता है! यहां किसी की जान सुरक्षित नहीं है!'

राज्यपाल ने घटना को बताया निंदनीय
वहीं पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी दोनों ने मुझे इस मामले में करीब 75 मिनट तक पूरी जानकारी दी. धनखड़ ने कहा कि संशोधित नागरिकता कानून भारत के नागरिकों के खिलाफ नहीं है. अगर लोगों में ऐसा कोई भी संदेश जा रहा है कि ये कानून उनके खिलाफ है तो ये पूरी तरह से गलत है. धनखड़ ने विजयवर्गीय के साथ हुई घटना पर कहा कि जो भी कैलाश विजयवर्गीय के साथ हुआ वह निंदनीय है, मुझे इसकी जानकारी नहीं है कि वहां पर क्या हुआ था.



राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि नागरिकता कानून किसी भी प्रकार से किसी भी भारतीय नागरिक के हितों को नुकसान नहीं पहुंचाता. मालदा और मुर्शिदाबाद में हुई घटनाओं से मैं व्यथित हूं, जहां काफी भय व्याप्त है. मैंने वरिष्ठ अधिकारियों और डीजीपी को संकेत दिए हैं कि मैं वहां का दौरा करना चाहता हूं.

ममता बनर्जी का विरोध प्रदर्शन जारी
आपको बता दें पश्चिम बंगाल में संशोधित नागरिकता कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है. राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी के विरोध में लगातार तीसरे दिन बुधवार को रैली निकाली. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख बनर्जी ने अपने पार्टी सहयोगियों के साथ हावड़ा मैदान से प्रदर्शन मार्च शुरू किया.

मार्च शुरू करने से पहले मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हम लोग बंगाल में कभी भी एनआरसी और संशोधित नागरिकता कानून की इजाजत नहीं देंगे. किसी को भी राज्य छोड़ने के लिए नहीं कहा जाएगा. हम लोग सभी धर्मों, जातियों और नस्लों के साथ मिलजुलकर रहने में यकीन करते हैं. हम सभी इस देश के नागरिक हैं और कोई भी हमें यहां से निकाल नहीं सकता.’

ये भी पढ़ें:-

मनोज तिवारी का सवाल-CAA पर कांग्रेस की रैली के बाद क्यों शुरू हुआ उपद्रव?

जामिया हिंसा: कांग्रेस के पूर्व आरोपी विधायक सरेंडर करने पहुंचे थाने, लेकिन...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 18, 2019, 5:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर