तमिलनाडु चुनाव: कमल हासन ने गृहणियों को सैलरी का किया वादा, शशि थरूर ने की तारीफ

कमल हासन  (फ़ाइल फोटो)

कमल हासन (फ़ाइल फोटो)

Tamilnadu Assembley Election 2021: अभिनेता कमल हासन ने अन्नाद्रमुक (AIADMK) और द्रमुक (DMK) पर निशाना साधते हुए कहा कि आने वाले विधानसभा चुनावों में तमिलनाडु की जनता उन लोगों से निजात पाने के लिए बदलाव चाहती है जो अब तक भ्रष्टाचार में 'लिप्त' रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 5, 2021, 2:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अभिनेता से नेता बने मक्कल नीधी मैयम (MNM) पार्टी के अध्यक्ष कमल हासन (Kamal Haasan) तमिलनाडु चुनावों (Tamil Nadu Elections) के लिए अपने घोषणापत्र की वजह से लगातार चर्चा में बने हुए हैं. उनका एक वादा जो खूब सुर्खियां बटोर रहा है वह सत्ता में आने पर गृहणियों को हर महीने सैलरी देने का ऐलान... कांग्रेस के सांसद शशि थरूर ने उनके इस कदम की तारीफ की है.

कमल हासन के मक्कल निधि मय्यम ने तमिलनाडु में इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों (Tamil Nadu Assembly Elections 2021) के लिए प्रचार शुरू कर दिया है और अपने आर्थिक एजेंडे को जोर-शोर से आगे बढ़ाया है. इसमें तमिलनाडु में गृहणियों को मासिक वेतन देने का वादा किया गया है. मक्कल निधी मय्यम ने कहा है कि महिलाओं को शिक्षा, रोजगार और उद्योग के जरिए सशक्त बनाया जाएगा. पार्टी के मुताबिक जो महिलाएं घर पर रहती हैं, उन्हें समाज की तरफ से कई बार नजरअंदाज किया जाता है, उनके काम को महत्व नहीं दिया जाता है. साथ ही, इस कार्य के योगदान पर ध्यान नहीं दिया जाता है. इसलिए पार्टी उन्हें मासिक वेतन देगी. इससे महिलाओं की प्रतिष्ठा बढ़ाने में मदद मिलेगी. इस संबंध में पार्टी ने सात-सूत्रीय सुशासन और आर्थिक एजेंडा प्रस्तावित किया है.

कांग्रेस के सांसद शशि थरूर ने कमाल हासन के इस कदम की सराहना की है. उन्होंने कहा है कि इससे घर पर काम करने वालों को एक पहचान मिलेगी.


अभिनेता कमल हासन ने अन्नाद्रमुक और द्रमुक पर निशाना साधते हुए कहा कि आने वाले विधानसभा चुनावों में तमिलनाडु की जनता उन लोगों से निजात पाने के लिए बदलाव चाहती है जो अब तक भ्रष्टाचार में 'लिप्त' रहे हैं. हासन ने कहा कि उन्हें और उनकी पार्टी को मिल रहा लोगों का प्यार इस बात का प्रमाण है और भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों की वजह से एमएनएम के लिए लोगों का समर्थन बढ़ रहा है.

Youtube Video


उन्होंने कहा कि तमिलनाडु में महिलाएं सुरक्षित महसूस नहीं करतीं, ऐसे में मतदाताओं को अप्रैल-मई में होने वाले चुनावों में मिलने वाले ऐतिहासिक अवसर का लाभ उठाकर एमएनएम को वोट देकर ऐसे हालात को बदलना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज