राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात के बाद कंगना के हाथ में दिखा कमल का फूल

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात के बाद कंगना के हाथ में दिखा कमल का फूल
कंगना जब राज्यपाल के आवास से निकलीं तो उनके हाथ में दो कमल के फूल भी थे. (Photo- ANI)

Kanagna Ranaut Meeting with Bhagat Singh Koshiyari: महाराष्ट्र में शिवसेना से चल रहे तकरार के बीच अदाकारा कंगना रनौत ने रविवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 13, 2020, 11:39 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में शिवसेना (Shivsena) से चल रहे तकरार के बीच अदाकारा कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने रविवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Governor Bhagat Singh Koshiyari) से मुलाकात की और अपने साथ हुई ‘‘नाइंसाफी’’ के बारे में उन्हें बताया. राज्यपाल से हुई इस मुलाकात के बारे में कंगना रनौत ने बताया कि "मैं राज्यपाल कोश्यारी से मिली और मैंने उन्हें अपने साथ हुए अभद्र व्यवहार के बारे में बताया. कंगना ने कहा कि मैं उम्मीद करती हूं कि मुझे न्याय मिलेगा. इससे सभी नागरिकों खासकर कि युवा लड़कियों की सिस्टम में वफादारी बढ़ेगी. कंगना ने कहा कि मैं सौभाग्यशाली हूं कि राज्यपाल ने मुझे बेटी की तरह सुना."

कंगना जब राज्यपाल के आवास से निकलीं तो उनके हाथ में दो कमल के फूल भी थे. अब इन फूलों को लेकर तमाम तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. बता दें कंगना रनौत की मां ने भी हाल में ही कहा था कि हालिया घटनाओं के बाद उनका परिवार बीजेपी का समर्थन करेगा. बता दें उपनगर बांद्रा के पाली हिल में कंगना के बंगले में कथित तौर पर अवैध निर्माण के कुछ हिस्सों को बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) द्वारा ढहाने के बाद उन्होंने यह मुलाकात की है. राजभवन में हुई मुलाकात के बाद संवाददाताओं से बात करते हुए अदाकारा ने कहा, ‘‘मैंने राज्यपाल से मुलाकात की. उन्होंने मुझे बेटी की तरह सुना. मैं एक नागरिक के तौर पर उनसे मिलने आयी. राजनीति से मेरा कोई लेना-देना नहीं है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने अपने साथ हुई नाइंसाफी और जो भी अनुचित हुआ, उस बारे में उन्हें बताया. यह अभद्र बर्ताव था. ’’


कंगना के साथ उनकी बहन रंगोली चंदेल भी थीं. राज्यपाल से मुलाकात के वक्त दोनों ने मास्क उतारकर तस्वीरें खिंचवायी. कंगना कोश्यारी का पैर छूने के लिये भी झुकीं.



ऐसे शुरू हुआ था विवाद
कंगना और शिवसेना के बीच हाल में विवाद तब शुरू हुआ जब अभिनेत्री ने अपने एक बयान में कहा कि उन्हें “मूवी माफिया” से ज्यादा मुंबई पुलिस से डर लगता है और महाराष्ट्र की राजधानी की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी. उनके बयान पर प्रतिक्रिया जताते हुए शिवसेना के नेता संजय राउत ने कथित तौर पर कहा था, ‘‘हम उनसे आग्रह करेंगे कि उन्हें मुंबई नहीं आना चाहिए. यह और कुछ नहीं बल्कि मुंबई पुलिस का अपमान है.’’

ये भी पढ़ें- सुशांत सिंह राजपूत केस: NCB ने मुंबई और गोवा में की छापेमारी, 6 और गिरफ्तार

कंगना बुधवार को हिमाचल प्रदेश से मुंबई लौटी थीं. उन्होंने आरोप लगाया कि शिवसेना से उनके टकराव की वजह से महाराष्ट्र सरकार उन्हें निशाना बना रही है. उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की भी आलोचना की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज