Kangana Vs Shiv Sena: शिवसेना का कंगना पर हमला! सामना में लिखा- पानी में रहकर मगर से बैर

Kangana Vs Shiv Sena: शिवसेना का कंगना पर हमला! सामना में लिखा- पानी में रहकर मगर से बैर
Kangna vs Shiv Sena: कंगना रनौत और शिवसेना के बीच तनातनी कम होने का नाम नहीं ले रही है.

शिवसेना (Shiv Sena) ने सामना के संपादकीय में 'विवाद माफियाओं का पेटदर्द' शीर्षक के जरिए मुंबई (Mumbai) की तुलना पाक अधिकृत कश्मीर से करने पर कंगना रनौत (Kangana Ranaut) पर कटाक्ष करने की कोशिश की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2020, 12:18 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत को लेकर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और शिवसेना (Shiv Sena) के बीच जुबानी जंग तेज होती जा रही है. शिवसेना एक ओर जहां कंगना रनौत पर एक्शन के मूड में दिख रही है तो वहीं कंगना भी आरपार की लड़ाई के मूड में दिख रही हैं. कंगना के साथ चल रहे विवाद के बीच शिवसेना ने अब मुखपत्र सामना के जरिए उनपर हमला बोला है. सामना के संपादकीय में 'विवाद माफियाओं का पेटदर्द' शीर्षक के जरिए मुंबई की तुलना पाक अधिकृत कश्मीर से करने पर कंगना रनौत पर कटाक्ष करने की कोशिश की गई है. लेख में कहा गया है कि मुंबई में रहकर महाराष्ट्र सरकार पर सवाल उठाना उसी तरह है जैसे पानी में रहकर मगरमच्छ से बैर करना.

सामना में कंगना रनौत पर निशाना साधते हुए लिखा गया है कि मुंबई पाक अधिकृत कश्मीर है कि नहीं यह विवाद जिसने पैदा किया, उसी को मुबारक. लेख में लिखा गया है कि मुंबई में अक्सर इस तरह के विवाद आते रहते हैं लेकिन मुंबई इन विवाद माफियाओं की​ फिक्र नहीं करता है. मुंबई हमेशा से महाराष्ट्र की राजधानी के रूप में ही प्रतिष्ठि है. लेख में बताया गया है कि शिवसेना प्रमुख हमेशा से घोषित तौर पर कहते थे कि देश एक है और अखंड है.

लेख के जरिए कई सवालों पर भी कटाक्ष किया गया है. लेख में कहा गया है ​कि राष्ट्रीय एकता तो है ही लेकिन राष्ट्रीय एकता का ये तुनतुना हमेशा मुंबई और महाराष्ट्र के बारे में ही क्यों बजाया जाता है? राष्ट्रीय एकता की ये बातें अन्य राज्यों के बारे में क्यों नहीं कही जाती हैं. जो कोई थी आता है वहीं महाराष्ट्र की राष्ट्रीय एकता के बारे में सिखाने लगता है.



इसे भी पढ़ें :- कंगना रनौत की खुली चुनौती- जिंदा रहूं या न रहूं, सबको बेनकाब करके रहूंगी
सामना में कंगना को देशद्रोही भी कहा जा चुका है
कंगना रनौत के मुंबई पहुंचने से पहले ही शिवसेना ने मुखपत्र सामना के जरिए उनपर हमला बोला था. इस दौरान कंगना रनौत को बेईमान, देशद्रोही कहा गया था. सामना के लेख में कंगना रनौत को मानसिक विकृत बताया गया था और मोदी सरकार को देशद्रोही को सुरक्षा देने की बात कही गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज