• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • BJP के खिलाफ राहुल गांधी खड़ी कर रहे हैं युवा फौज! कन्हैया कुमार भी जल्द हो सकते हैं शामिल

BJP के खिलाफ राहुल गांधी खड़ी कर रहे हैं युवा फौज! कन्हैया कुमार भी जल्द हो सकते हैं शामिल

राहुल गांधी से मुलाकात कर चुके हैं कन्‍हैया कुमार. (फाइल फोटो: News18 English)

राहुल गांधी से मुलाकात कर चुके हैं कन्‍हैया कुमार. (फाइल फोटो: News18 English)

Kanhaiya Kumar-Congress: एजेंसी के अनुसार, कुमार के करीबी सूत्रों ने जानकारी दी है कि वो कई मौकों पर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से मुलाकात कर चुके हैं. पार्टी में उनकी भूमिका को लेकर चर्चाएं अंतिम दौर में हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPI) के नेता कन्हैया कुमार के कांग्रेस (Congress) में शामिल होने की अटकलें तेज होती जा रही हैं. खबर है कि वो जल्द ही कांग्रेस की सदस्यता ले सकते हैं और राष्ट्रीय स्तर पर अहम भूमिका निभा सकते हैं. कहा जा रहा है कि वो कांग्रेस के लगातार संपर्क में बने हुए हैं. उनके अलावा गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवाणी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं.

    समाचार एजेंसी एएनआई ने पार्टी सूत्रों के हवाले से लिखा कि कुमार कांग्रेस के संपर्क में हैं. सूत्रों ने कहा, ‘कन्हैया कुमार बिहार में पार्टी के अहम युवा चेहरे रहेंगे और उनके लिए राष्ट्रीय भूमिका भी होगी.’ उन्होंने जानकारी दी कि कुमार ने हाल ही में कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मुलाकात कर इस मुद्दे पर चर्चा की थी. एजेंसी के अनुसार, कुमार के करीबी सूत्रों ने जानकारी दी है कि वो कई मौकों पर गांधी से मुलाकात कर चुके हैं. पार्टी में उनकी भूमिका को लेकर चर्चाएं अंतिम दौर में हैं.

    कहा जा रहा है कि पार्टी भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ एक राष्ट्रीय आंदोलन की रणनीति बना रही है. इसके लिए प्रभावशाली युवाओं की पहचान की जा रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के जनाधार का मुकाबला करने के लिए राहुल गांधी युवा नेताओं की टीम तैयार कर रहे हैं. इस साल जितिन प्रसाद और सुष्मिता देव पार्टी को अलविदा कह चुके हैं. प्रसाद ने भाजपा का दामन थामा, तो देव पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पार्टी में शामिल हुई थीं.

    हालांकि, कांग्रेस के कुछ नेता कुमार के पार्टी में शामिल होने को लेकर खुश नही है. एजेंसी के अनुसार, कुछ नेताओं का मानना है कि जेएनयू में 2016 में लगे ‘राष्ट्र-विरोधी’ नारों के चलते कुमार का आना शायद पार्टी के लिए फायदेमंद साबित नहीं होगा. 2019 में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में कन्हैया कुमार भी सियासी मैदान में थे. हालांकि, उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

    इंडियन एक्स्प्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस के सूत्रों का कहना है कि कुमार बिहार की राजनीति में अहम भूमिका निभाना चाहते हैं. बिहार में कांग्रेस लंबे समय से सत्ता के लिए मुश्किलों का सामना कर रही है. पिछले विधानसभा चुनावों में भी कांग्रेस ने सहयोगी दल आरजेडी और सीपीआई (एमएल) की तुलना में खराब प्रदर्शन किया था. 70 सीटों पर लड़ने वाली कांग्रेस के खाते में 19 सीटें ही आ सकी थीं. जबकि, आरजेडी ने 144 सीटों पर चुनाव लड़ा था और आधे से ज्यादा पर जीत हासिल की थी. 19 सीटों पर लड़ने वाली सीपीआई (माले) को 12 सीटें मिली थीं.

    अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, कुमार के करीबी सूत्रों का कहना है कि वो सीपीआई में घुटन महसूस कर रहे थे. उन्होंने मंगलवार को गांधी से मुलाकात की और पता चला है कि दोनों के बीच कांग्रेस में कुमार की एंट्री को लेकर चर्चा हुई.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज