होम /न्यूज /राष्ट्र /

अल्मोड़ा में 'छोलिया नृत्य' से हुआ कांवड़ियों का भव्य स्वागत, 'हर हर महादेव' के जयकारों से गूंजा शहर

अल्मोड़ा में 'छोलिया नृत्य' से हुआ कांवड़ियों का भव्य स्वागत, 'हर हर महादेव' के जयकारों से गूंजा शहर

अल्मोड़ा में पहुंचने पर सिद्ध नौले के पास कांवड़ियों का फूल-मालाओं के साथ स्वागत किया गया. कुछ जगहों पर लोगों द्वारा कांवड़ियों पर फूलों की बारिश भी की गई. 

    रोहित भट्ट

    अल्मोड़ा.सावन के महीने में जगह-जगह पर कांवड़ यात्री आपको देखने के लिए मिल जाते हैं. हरिद्वार से लेकर जागेश्वर धाम तक निकली पैदल कांवड़ यात्रा अल्मोड़ा पहुंची, जहां शहरवासियों ने कांवड़ियों का भव्य स्वागत किया. स्वागत सम्मान में छोलिया नृत्य करते हुए कलाकारों ने लोकनृत्य की शानदार प्रस्तुति दी. वहीं स्थानीय लोक कलाकारों ने भी कांवड़ियों के साथ मुख्य बाजार में जाकर इस यात्रा की शोभा बढ़ाई. इसमें शिव के रूप में आई कलाकार ने लोगों को अपनी ओर काफी आकर्षित किया.

    अल्मोड़ा में पहुंचने पर सिद्ध नौले के पास कांवड़ियों का फूल-मालाओं के साथ स्वागत किया गया. कुछ जगहों पर लोगों द्वारा कांवड़ियों पर फूलों की बारिश भी की गई. इसके बाद पूरे बाजार में कांवड़ियों ने भ्रमण कर नंदा देवी मंदिर में स्थित शिवालय में जाकर भगवान शिव का जलाभिषेक किया.

    कांवड़ियों ने बताया कि वे अब यहां से जागेश्वर धाम जाकर भगवान शंकर के दर्शन करेंगे और वहां भी भोलेनाथ का जलाभिषेक करेंगे. अल्मोड़ा में कांवड़ यात्रियों को देखकर स्थानीय लोगों के साथ जुलूस में मौजूद लोगों ने ‘हर हर महादेव’ के जयकारे लगाए.

    कांवड़ यात्री गोविंद सिंह बरगली ने बताया कि यह उनकी हरिद्वार की तीसरी कांवड़ यात्रा है. वह जागेश्वर धाम में दूसरी बार भगवान शंकर के दर्शन करने के लिए जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि हरिद्वार से लेकर जागेश्वर धाम तक उनकी यह पैदल यात्रा रहती है. उन्होंने बताया कि गोल्ज्यू धाम ज्योलीकोट के संपादक ललित मोहन बिष्ट के तत्वाधान में इस कांवड़ यात्रा को निकाला जाता है. अल्मोड़ा पहुंचने के बाद जागेश्वर धाम जाकर भगवान शंकर का जलाभिषेक किया जाता है.

    Tags: Almora News

    अगली ख़बर