• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पुलवामा की बरसी पर PAK समर्थित नारे लगाने पर 3 कश्मीरी छात्र दोबारा गिरफ्तार, चलेगा राजद्रोह का केस

पुलवामा की बरसी पर PAK समर्थित नारे लगाने पर 3 कश्मीरी छात्र दोबारा गिरफ्तार, चलेगा राजद्रोह का केस

छात्रों की रिहाई के विरोध में दक्षिणपंथी संगठनों के कुछ सदस्यों ने रविवार को पुलिस थाने के बाहर प्रदर्शन किया था. (ANI)

छात्रों की रिहाई के विरोध में दक्षिणपंथी संगठनों के कुछ सदस्यों ने रविवार को पुलिस थाने के बाहर प्रदर्शन किया था. (ANI)

पुलिस ने बताया कि हुबली जिले के केएलई इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में पढ़ने वाले इन छात्रों ने शुक्रवार को पाक समर्थित नारे लगाते हुए सोशल मीडिया पर उसका वीडियो पोस्ट किया. गिरफ्तार किए गए छात्र कश्मीर के शोपियां के रहने वाले हैं.

  • Share this:
    हुबली. पुलवामा हमले (Pulwama attack) की पहली बरसी पर कर्नाटक के निजी इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ रहे कश्मीर के तीन छात्रों को पाकिस्तान (Pakistan) समर्थित नारे लगाने के आरोप में दोबारा गिरफ्तार किया गया है. रविवार को इन्हें हिरासत में लेकर बॉन्ड भरवाने के बाद छोड़ दिया गया था. हालांकि, पुलिस के इस फैसले के खिलाफ प्रदर्शन के बाद सोमवार को तीनों छात्रों को फिर से गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने इन पर राजद्रोह और सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है.

    पुलिस ने बताया कि हुबली जिले के केएलई इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में पढ़ने वाले इन छात्रों ने शुक्रवार को पाक समर्थित नारे लगाते हुए सोशल मीडिया पर उसका वीडियो पोस्ट किया. सोशल मीडिया पर ये पोस्ट वायरल हो गया. गिरफ्तार किए गए छात्र कश्मीर के शोपियां के रहने वाले हैं. कॉलेज प्रशासन की शिकायत के आधार पर इन छात्रों पर कार्रवाई की गई है.

    हुबली-धारवाड़ के पुलिस कमिश्नर आर. दिलीप ने न्यूज़ एजेंसी‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘उन्हें (कश्मीरी छात्रों को) गिरफ्तार कर अदालत के सामने पेश किया गया. कोर्ट ने तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.’



    हुबली के पुलिस कमिश्नर ने कहा कि तीनों छात्रों की पहचान आमिर, बासित व तालिब के रूप में हुई है. इन पर केएलईएस इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की शिकायत परराष्ट्र विरोधी नारे लगाकर सामुदायिक सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास करने को लेकर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 124 की तहत मामला दर्ज किया गया है. यह धारा राज्य के खिलाफ अपराधों से जुड़ी है.



    पुलिस कमिश्नर दिलीप ने शिकायत के हवाले से कहा कि यह घटना तब हुई जब कॉलेज में शुक्रवार को पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए एक समारोह आयोजित किया गया था. वे इस कार्यक्रम में शामिल होने के बजाय हॉस्टल में पाकिस्तान समर्थक नारे लगाते हुए वीडियो बना रहे थे.

    छात्रों की रिहाई के विरोध में दक्षिणपंथी संगठनों के कुछ सदस्यों ने रविवार को पुलिस थाने के बाहर प्रदर्शन किया था, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई. पुलिस सूत्रों ने बताया कि गृहमंत्री बासवराज बोम्मई ने भी पुलिस अधिकारियों से इस मामले में बातचीत की थी. (PTI इनपुट के साथ)

    ये भी पढ़ें: पाकिस्तान का दावा 'लापता' है आतंकी मसूद अजहर, भारत ने कहा FTF को बता देंगे कहां छुपा है वो

    इराक के बगदाद में अमेरिकी दूतावास के पास फिर रॉकेट से हमला

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज