Assembly Banner 2021

कर्नाटक के बजट में नया टैक्स नहीं, येदियुरप्पा बोले- जनता पर बोझ नहीं डालना चाहता

येदियुरप्पा ने कहा कि राज्य के कृषि क्षेत्र में जहां 6.4 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई, वहीं उद्योग और सेवा क्षेत्र में गिरावट आई है. (फाइल फोटो)

येदियुरप्पा ने कहा कि राज्य के कृषि क्षेत्र में जहां 6.4 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई, वहीं उद्योग और सेवा क्षेत्र में गिरावट आई है. (फाइल फोटो)

BS Yediyurappa: येदियुरप्पा मुख्यमंत्री के साथ-साथ राज्य के वित्त मंत्री का भी कामकाज संभाले हुए हैं. वह अब तक राज्य विधानसभा में कुल आठ बजट पेश कर चुके हैं.

  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक सरकार के सोमवार को पेश 2021-22 के बजट में कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है. साथ ही बजट में महिला उद्यमियों को प्रोत्साहन देने के लिये कई योजनाओं की घोषणा की गई है. मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने राज्य विधानसभा में 2021-22 का बजट पेश करते हुये कहा, ‘‘वर्ष 2020-21 में कोविड-19 महामारी के चलते आम जनता कई तरह के कष्ट झेलने पड़े हैं. इसलिये मैं आम जनता पर किसी भी तरह के नये टैक्स का बोझ नहीं डालना चाहता हूं.’’

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पेट्रोल और डीजल पर कर्नाटक बिक्री कर (केएसटी) लगाती है, जोकि पहले ही दक्षिण के दूसरे राज्यों के मुकाबले काफी कम है. इसके बावजूद बजट में कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है और बजट इस तरह तैयार किया गया है कि आम आदमी पर कोई अतिरिक्त टैक्स बोझ नहीं बढ़े. इसके साथ ही महिला उद्यमियों को प्रोत्साहन देने के लिये बजट में कई घोषणायें की गई हैं.

येदियुरप्पा मुख्यमंत्री के साथ-साथ राज्य के वित्त मंत्री का भी कामकाज संभाले हुए हैं. वह अब तक राज्य विधानसभा में कुल आठ बजट पेश कर चुके हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के चलते चालू वित्त वर्ष के दौरान राज्य का सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) शुरुआती अनुमान के मुताबिक स्थिर मूल्य पर 2.6 प्रतिशत घटा है.

इस दौरान राज्य के कृषि क्षेत्र में जहां 6.4 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई, वहीं उद्योग और सेवा क्षेत्र में गिरावट आई है. वित्त वर्ष 2020- 21 में उद्योग क्षेत्र में 5.1 प्रतिशत और सेवा क्षेत्र में 3.1 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज