होम /न्यूज /राष्ट्र /कर्नाटक: मुख्यमंत्री ने किया दलित के घर नाश्ता, कांग्रेस ने सरकार पर लगाए आरोप

कर्नाटक: मुख्यमंत्री ने किया दलित के घर नाश्ता, कांग्रेस ने सरकार पर लगाए आरोप

मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई और येदियुरप्पा ने दलित व्यक्ति के घर नाश्ता किया. ( फोटो- PTI )

मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई और येदियुरप्पा ने दलित व्यक्ति के घर नाश्ता किया. ( फोटो- PTI )

कर्नाटक (Karnataka) के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (CM Basavaraj Bommai) और भाजपा के कद्दावर नेता बी एस येदियुरप्पा ने बु ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने किया दलित के घर नाश्‍ता
भाजपा की 'जन संकल्प यात्रा' में शामिल हुए सीएम व अन्‍य नेता
कांग्रेस के आरोप, कहा- चुनाव से पहले वोट के लिए ‘फोटो-ऑप’ है

होसपेट/चित्रदुर्ग. कर्नाटक (Karnataka) के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (CM Basavaraj Bommai) और भाजपा के कद्दावर नेता बी एस येदियुरप्पा ने बुधवार को होसपेट के पास एक गांव में एक दलित व्यक्ति के घर नाश्ता किया. उन्होंने सत्तारूढ़ भाजपा की मंगलवार को शुरू हुई ‘जन संकल्प यात्रा’ के तहत गांव का दौरा किया. हीराला कोल्लरप्पा और उनकी दो बेटियों ने उन्हें ‘केसरी भात’, ‘मंदाकी वोगराने’, तली हुई मिर्च और उप्पिट्टू (उपमा) परोसा. सरकारी अधिकारियों के अनुसार, नवगठित विजयनगर जिले के कमलापुरा गांव में अंबेडकर नगर के दौरे के दौरान मुख्यमंत्री के साथ येदियुरप्पा, जल संसाधन मंत्री गोविंद करजोल और पर्यटन मंत्री आनंद सिंह भी थे.

आधिकारिक बयान में कहा गया, ‘कमलापुरा गांव के अंबेडकर नगर में हीराला कोल्लरप्पा के घर उत्सव का माहौल रहा. उनकी दो बेटियां-हुलिजेम्मा और रेणुका बुधवार को ‘आम आदमी’ के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के लिए विशेष नाश्ता तैयार करने में सुबह से ही रसोई में व्यस्त थीं.’ कोल्लरप्पा के घर नाश्ता करने के बाद भाजपा नेताओं ने परिवार के सभी सदस्यों से बातचीत की. इस बीच, कांग्रेस ने कहा कि बोम्मई और येदियुरप्पा का दलित के घर नाश्ता करना राज्य में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले वोट के लिए ‘फोटो-ऑप’ है.

विपक्ष के नेता सिद्धरमैया ने सरकार पर आरोप लगाए 

विपक्ष के नेता सिद्धरमैया ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार ने दलितों और अन्य पिछड़े समुदायों के उत्थान के लिए कुछ नहीं किया है. वहीं, कांग्रेस महासचिव एवं पार्टी के कर्नाटक प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने चिक्कमंगलुरु में दलित कार्यकर्ताओं के साथ कथित तौर पर मारपीट किए जाने और उन्हें बंदी बनाए जाने की घटना का जिक्र करते हुए बोम्मई सरकार पर निशाना साधा. राहुल गांधी के नेतृत्व में निकाली जा रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होने यहां पहुंचे सिद्धरमैया ने एक सवाल के जवाब में संवाददाताओं से कहा, ‘क्योंकि चुनाव आ रहे हैं, वे दलितों, पिछड़े वर्गों, एससी-एसटी को याद करने लगे हैं, अब तक इस सरकार द्वारा उनके कल्याण के लिए कुछ भी नहीं किया गया है. अब वे चुनाव और वोट के लिए उन इलाकों का दौरा कर रहे हैं जहां दलित और पिछड़े समुदाय के लोग रहते हैं.’

सुरजेवाला ने एक ट्वीट में आरोप लगाया, भाजपा नेता ने 16 दलितों को बंदी बनाया 

पार्टी की ‘जन संकल्प यात्रा’ में शामिल बोम्मई, येदियुरप्पा और अन्य भाजपा नेताओं ने विजयनगर जिले के कमलापुरा गांव में बुधवार को एक दलित के घर में नाश्ता किया. सुरजेवाला ने एक ट्वीट में आरोप लगाया, ‘कर्नाटक में बोम्मई सरकार के तहत दलितों पर अत्याचारों में पिछले साल की तुलना में 54 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. बोम्मई-बीएसवाई (येदियुरप्पा) जहां एक दलित के घर जाने का फोटो-ऑप करते हैं, वहीं एक भाजपा नेता ने 16 दलितों को बंदी बना लिया और एक असहाय महिला को अपना बच्चा खोना पड़ा.’

Tags: CM Basavaraj Bommai, Congress, Karnataka

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें