Home /News /nation /

karnataka cid arrests adgp rank ips officer amrit paul in connection with psi recruitment scam dpk

कर्नाटक PSI भर्ती घोटाला केस में CID की बड़ी कार्रवाई, ADGP रैंक का IPS अधिकारी गिरफ्तार


कर्नाटक पुलिस सब इंस्पेक्टर भर्ती घोटाले में सीआईडी ने एडीजीपी अमृत पॉल को गिरफ्तार किया. (File Photo)

कर्नाटक पुलिस सब इंस्पेक्टर भर्ती घोटाले में सीआईडी ने एडीजीपी अमृत पॉल को गिरफ्तार किया. (File Photo)

Karnataka PSI Recuritment Scam: सूत्रों के मुताबिक, भर्ती विभाग में ही फर्जी अभ्यर्थियों की अंक सूची से कथित तौर पर छेड़छाड़ की गई थी और अमृत पॉल कथित तौर पर इन घटनाओं की जानकारी रखते थे. कर्नाटक सीआईडी ने कम से कम चार बार पूछताछ के बाद ADGP को गिरफ्तार किया. यह घोटाला सबसे पहले कर्नाटक के कलबुर्गी जिले में सामने आया था, जब एक उम्मीदवार की OMR शीट सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई.

अधिक पढ़ें ...

बेंगलुरु: कर्नाटक अपराध जांच विभाग (Crime Investigation Department) ने पुलिस उपनिरीक्षक (Police Sub-Inspector Recruitment Scam) भर्ती घोटाला केस में सोमवार को ADGP रैंक के एक अधिकारी को गिरफ्तार किया. पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस साल अप्रैल में घोटाले का पता चलने के समय गिरफ्तार किए गए ADGP अमृत पॉल भर्ती प्रकोष्ठ के प्रमुख थे. इस भर्ती में बड़े पैमाने पर अनियमितताएं सामने आने के बाद इस IPS अधिकारी का तबादला ADGP, आंतरिक सुरक्षा प्रभाग के पद पर कर दिया गया था.

सूत्रों के मुताबिक, भर्ती विभाग में ही फर्जी अभ्यर्थियों की अंक सूची से कथित तौर पर छेड़छाड़ की गई थी और अमृत पॉल कथित तौर पर इन घटनाओं की जानकारी रखते थे. कर्नाटक सीआईडी ने कम से कम चार बार पूछताछ के बाद ADGP को गिरफ्तार किया. यह घोटाला सबसे पहले कर्नाटक के कलबुर्गी जिले में सामने आया था, जब एक उम्मीदवार की OMR शीट सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई. इसमें दिखाया गया था कि उसने 100 में से केवल 21 प्रश्नों के उत्तर देने के बावजूद परीक्षा उत्तीर्ण कर ली थी.

इसके पुलिस सब-इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा आयोजित करने के तरीके को लेकर अभ्यर्थियों में आक्रोश फैल गया. पुलिस ने उम्मीदवार व उसकी ओएमआर सीट सोशल मीडिया पर डालने वाले व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया. उक्त मामले की जांच के संबंध में, BJP नेता और कलबुर्गी में ‘ज्ञान ज्योति इंग्लिश मीडियम स्कूल’ की मालकिन दिव्या हागरागी, प्रिंसिपल काशीनाथ और अन्य कर्मचारियों की गिरफ्तारी हुई. मामले में पुलिस उपाधीक्षक, निरीक्षक, उपनिरीक्षक, कांस्टेबल और एक विधायक के गार्ड सहित कुछ अन्य पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार किया गया.

इस भर्ती घोटाले के सिलसिले में अब तक 40 ‘चयनित’ उम्मीदवारों, एजेंटों, परीक्षा केंद्र के कर्मचारियों और पुलिस वालों सहित लगभग 70 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. PSI भर्ती घोटाले में शामिल प्रत्येक संदिग्ध उम्मीदवार ने कथित तौर पर नौकरी पाने के लिए 70 लाख रुपये की घूस दी थी. उल्लेखनीय है कि कर्नाटक पुलिस में सब-इंस्पेक्टर के 545 पदों को भरने के लिए अक्टूबर 2021 में भर्ती प्रक्रिया शुरू हुई थी. घोटाले का पता चलने के बाद राज्य सरकार ने इस भर्ती को रद्द करते हुए नए सिरे से भर्ती परीक्षा कराने का आदेश दिया था.

Tags: Karnataka, Scam

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर