कुमारस्वामी का छलका दर्द, कहा- गठबंधन का विष पी रहा हूं, चाहूं तो 2 घंटे में छोड़ दूं CM पद

कुमारस्वामी के इस बयान पर राज्य के उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर ने कहा कि सीएम को हमेशा खुश रहना चाहिए, अगर वह खुश रहेंगे तो ही हम सभी खुश रहेंगे.

News18Hindi
Updated: July 15, 2018, 11:21 AM IST
कुमारस्वामी का छलका दर्द, कहा- गठबंधन का विष पी रहा हूं, चाहूं तो 2 घंटे में छोड़ दूं CM पद
कर्नाटक में कांग्रेस के साथ गठबंधन सरकार चला रहे हैं कुमारस्वामी (फाइल)
News18Hindi
Updated: July 15, 2018, 11:21 AM IST
कर्नाटक में कांग्रेस के साथ गठबंधन सरकार चला रहे मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का दर्द एक बार फिर छलकता दिखा. एक जनसभा के दौरान उन्‍होंने कहा कि वह 'गठबंधन की सरकार' का दर्द झेल रहे हैं. उन्होंने कहा, 'आप मुझे शुभकामनाएं देने के लिए गुलदस्ते लेकर आए हैं. आपका एक भाई सीएम हो गया है, इसलिए आप सभी खुश हैं, लेकिन मैं नहीं. मैं गठबंधन सरकार के दर्द को जानता हूं. मैं विषकांत हो गया हूं और इस सरकार का विष पी रहा हूं.'

कुमारस्वामी ने कहा, 'चुनाव प्रचार के दौरान लोग उन्हें सुनने आए, लेकिन जब वोट देने की बारी आई तो पार्टी के उम्मीदवारों को भूल गए जो उनका दुर्भाग्य रहा.'  कुमारस्वामी ने कहा, 'ईश्वर ने मुझे सीएम बनाया है. वही तय करेंगे कि मुझे कितने दिन इस पद पर रहना है.'

कुमारस्वामी ने कहा कि उनका सपना था कि वह अपने पिता देवेगौड़ा के अधूरे काम को पूरा करें. विधानसभा चुनावों में जो परिणाम आए, उनसे लगा कि लोगों को मुझ पर विश्वास नहीं था.


कांग्रेस-जेडीएस सरकार के पहले बजट में वित्त विभाग का भी प्रभार संभाल रहे कुमारस्वामी ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में प्रति लीटर क्रमश: 1.14 रुपये और 1.12 रुपये की बढ़ोतरी का प्रस्ताव रखा था. किसानों की कर्ज माफी की घोषणा के बाद संसाधन जुटाने के प्रयासों के तहत सरकार ने यह प्रस्ताव किया था. किसानों की कर्ज माफी से राज्य सरकार के खजाने पर 34,000 करोड़ रुपये का भार पड़ेगा.

यह भी पढ़ें: कर्नाटक: सिद्धारमैया और कुमारस्वामी में फिर ठनी, मौके का फायदा उठाने की ताक में बीजेपी



इसके साथ ही सिद्धारमैया ने कुमारस्वामी को लिखी एक चिट्ठी में कहा था कि सीएम को 34,000 करोड़ रुपए के कृषि ऋण माफी के लिए फंड इकट्ठा करने के लिए चावल की मात्रा प्रति व्यक्ति 7 किलो से 5 किलो नहीं करनी चाहिए. सिद्धारमैया अपनी सरकार की योजना अन्नभाग्य पर काफी गर्व करते हैं, जिससे राज्य के 3 करोड़ लोगों को लाभ हुआ.

इस मसले पर कुमारस्वामी ने कहा, अब वह इस स्कीम में 5 किलो चावल की बजाय 7 किलो चाहते हैं. मैं इसके लिए 2500 करोड़ रुपये कहां से लाऊं? टैक्स लगाने के मेरे फैसले का विरोध हो रहा है. अगर मैं चाहूं तो 2 घंटों के भीतर सीएम का पद छोड़ दूं.'

वहीं, कुमारस्वामी के इस बयान पर राज्य के उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर ने कहा, 'वह ऐसा कैसे कह सकते हैं? उन्हें निश्चित रूप से खुश रहना चाहिए. सीएम को हमेशा खुश रहना चाहिए, अगर वह खुश रहेंगे तो ही हम सभी खुश रहेंगे.'

यह भी पढ़ें : येदियुरप्पा का दावा, BJP में आना चाहते हैं कांग्रेस-JDS के कई विधायक
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर