सरकार गिरने से कुछ घंटे पहले ऐसा काम कर गए कुमारस्वामी कि हर कोई हुआ कायल

एचडी कुमारस्वमी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहते हुए अपने आखिरी आदेश के तहत राज्य के भूमिहीन मजदूरों द्वारा लिए गए ऋणों को पूरी तरह से माफ कर दिया.

News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 8:44 AM IST
सरकार गिरने से कुछ घंटे पहले ऐसा काम कर गए कुमारस्वामी कि हर कोई हुआ कायल
सरकार गिरने से कुछ घंटे पहले अपना वादा निभा गए कुमारस्वामी
News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 8:44 AM IST
कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन की सरकार कर्नाटक में 14 महीने ही चल सकी. मंगलवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी फ्लोर टेस्ट पास करने में कामयाब नहीं हो सके और उन्हें मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा. कुमारस्वामी को इस बात का पहले से अंदाजा था कि उनकी सरकार सत्ता से बाहर हो सकती है. इसीलिए उन्होंने अपने इस्तीफे से पहले वो वादा निभाया, जिसका जिक्र वो काफी पहले से कर रहे थे. विश्वास मत हारने से पहले कुमारस्वामी ने उस फैसले पर हस्ताक्षर कर दिए, जिसमें राज्य के भूमिहीन मजदूरों का कर्ज पूरी तरह से माफ करने की बात कही गई थी.

एचडी कुमारस्वमी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहते हुए अपने आखिरी आदेश के तहत राज्य के भूमिहीन मजदूरों द्वारा लिए गए ऋणों को पूरी तरह से माफ कर दिया. बता दें कि ये भूमिहीन मजदूर वे हैं, जिनकी दो हेक्टेयर से कम भूमि या आय एक लाख रुपये से कम है. कुमारस्वामी ने बताया कि चार दिनों तक चले अविश्वास प्रस्ताव की कार्यवाही के दौरान ही मुझे पता चल गया था कि राज्य में उनकी सरकार नहीं बन रही है. अविश्वास प्रस्ताव आने के कुछ घंटे पहले ही उन्होंने अपने अंतिम आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए.

इसे भी पढ़ें :- फ्लोर टेस्ट का सामना किए बगैर ही राज्यपाल को इस्तीफा सौंप सकते हैं कुमारस्वामी!

गौरतलब है कि कर्नाटक के राज्यपाल रमेश कुमार ने कुमारस्वामी से कहा है कि जब तक नई सरकार का गठन नहीं हो जाता है तब तक वह कार्यवाहक मुख्यमंत्री के रूप में काम करते रहें. ऐसी स्थिति में कुमारस्वामी पद पर तो बने रहेंगे लेकिन कोई भी नीतिगत फैसले नहीं ले सकेंगे. यही वजह है कि सरकार गिरने से महज कुछ घंटे पहले ही कुमारस्वामी ने मजदूरों को लेकर ये महत्वपूर्ण फैसला ले लिया.

इसे भी पढ़ें :- कुमारस्वामी बोले- मेरा 'फर्जी इस्‍तीफा' हो रहा वायरल, ये किसी की साजिश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 25, 2019, 7:55 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...