कर्नाटक: खतरे में कांग्रेस-JDS गठबंधन? देवगौड़ा बोले- कांग्रेस आलाकमान तय करेगा भविष्य!

पूर्व प्रधानमंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि उनके बेटे और पूर्व मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी नहीं बल्कि कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धरमैया विधानसभा में आधिकारिक रूप से विपक्ष के नेता होंगे.

News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 6:12 AM IST
कर्नाटक: खतरे में कांग्रेस-JDS गठबंधन? देवगौड़ा बोले- कांग्रेस आलाकमान तय करेगा भविष्य!
देवगौड़ा ने कहा, इस गठबंधन का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि कांग्रेस आलाकमान क्या निर्णय लेता है. (PTI)
News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 6:12 AM IST
जनता दल (सेकुलर) के प्रमुख एच डी देवगौड़ा ने रविवार को कहा कि कांग्रेस के साथ उनकी पार्टी के गठबंधन का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि सबसे पुरानी पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का आलाकमान अपनी पार्टी के प्रदेश नेतृत्व की सलाह पर क्या निर्णय लेता है.

पूर्व प्रधानमंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि उनके बेटे और पूर्व मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी नहीं बल्कि कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धरमैया विधानसभा में आधिकारिक रूप से विपक्ष के नेता होंगे.

देवगौड़ा ने संवाददाताओं से कहा, 'इस गठबंधन का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि कांग्रेस आलाकमान अपनी पार्टी के नेताओं की सलाह पर क्या निर्णय लेता है.' उन्होंने कहा, मैं इस पर अब और टिप्पणी नहीं करना चाहता.'

उन्होंने कहा, 'कुमारस्वामी आधिकारिक तौर पर विपक्ष के नेता नहीं हैं. येडियुरप्पा सरकार के तीन साल आठ महीने के लिए सिद्धरमैया आधिकारिक रूप से विपक्ष के नेता होंगे. देवगौड़ा ने कहा, कुमारस्वामी एक राजनीतिक दल के विधायक दल के नेता हैं.



प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कुछ भी बोलने से किया इंकार
कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस सरकार के गिरने के एक दिन बाद कुमारस्वामी समेत गठबंधन के किसी भी नेता ने इस गठजोड़ के भविष्य पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया था. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव ने भी कहा था कि गठबंधन पर आलाकमान निर्णय लेगा, प्रदेश इकाई उसके निर्देश का पालन करेगी.
Loading...

खासकर मैसुरू क्षेत्र में एक दूसरे की चिर प्रतिद्वंद्वी समझी जाने वाली कांग्रेस और जेडीएस ने मई, 2018 में त्रिशंकु विधानसभा होने के बाद गठबंधन सरकार बनाने के लिए हाथ मिलाया था.

जेडीएस में मतभेद की खबर आई थी सामने
इससे पहले खबर आई थी कि कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के सत्ता से बाहर होने के बाद भी पार्टी के अंदर सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. जेडीएस के विधायक दो खेमे में बंट गए, यही कारण है कि कुछ विधायक कुमारस्वामी पर बीजेपी से हाथ मिलाने का दबाव बना रहे हैं. इन सभी राजनीतिक उठा-पटक के बीच कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी ने साफ कर दिया है कि वह बीजेपी का साथ कभी नहीं देंगे.

बैठक में विधायकों में मतभेद उभरकर सामने आए
खबर है कि पार्टी के भविष्य की रणनीति के संबंध में कुमारस्वामी द्वारा शुक्रवार रात बुलाई गई बैठक में विधायकों में मतभेद उभरकर सामने आए. पार्टी विधायकों से यहां मिलने के बाद जी टी देवगौड़ा ने कहा, हमने (विधायकों) से भविष्य की रणनीति पर चर्चा की. कुछ सदस्यों ने सुझाव दिया कि हमें विपक्ष में बैठना चाहिए जबकि कुछ विधायकों की राय है कि हमें बाहर से भाजपा को समर्थन देना चाहिए.

ये भी पढ़ें-
स्पीकर के फैसले ने येडियुरप्‍पा सरकार को संकट से निकाला!

कर्नाटक: स्पीकर ने बदला सत्ता समीकरण, ये है विधानसभा का गणित
First published: July 29, 2019, 6:12 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...