लाइव टीवी

कर्नाटक: MLA सोमशेखर बोले- बागी विधायक एकजुट, वापस नहीं लेंगे इस्‍तीफा

News18Hindi
Updated: July 14, 2019, 11:52 PM IST
कर्नाटक: MLA सोमशेखर बोले- बागी विधायक एकजुट, वापस नहीं लेंगे इस्‍तीफा
कांग्रेस के बागी विधायकों ने मुंबई में रविवार शाम को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस का आयोजन किया. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

कानून का हवाला देते हुए शिवकुमार ने कहा कि विधायकों को कांग्रेस के टिकट पर चुना गया है. इसपर कानून के स्‍पष्‍ट प्रावधान हैं. अगर वे विश्‍वासमत के खिलाफ वोट करते हैं तो अपनी सदस्‍यता भी खो देंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 14, 2019, 11:52 PM IST
  • Share this:
कर्नाटक में चल रहा सियासी घमासान जारी है. यहां पर सरकार बचाने के लिए कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन अपने विधायकों को मनाने में जुटा हुआ है. वहीं बागी विधायक इस्‍तीफा वापस न लेने पर अड़े हुए हैं. रविवार दोपहर गठबंधन सरकार के 'संकटमोचन' कहे जाने वाले कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि उनकी पार्टी बागी विधायकों की मांगों को निपटाने के लिए तैयार है. जबकि शाम को बागी विधायकों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इससे इनकार किया है.

कांग्रेस के बागी विधायकों ने मुंबई में रविवार शाम को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस का आयोजन किया. इस दौरान बागी विधायक एसटी सोमशेखर और बीसी पाटिल ने कहा, 'हम इस्‍तीफा वापस नहीं लेंगे. बागी विधायकों में कोई फूट नहीं है. हम किसी अन्‍य राजनीतिक पार्टी के संपर्क में भी नहीं हैं. अगर कोई पार्टी हमसे संपर्क करने की कोशिश कर रही है, तो हम उनका जवाब नहीं दे रहे हैं.' वहीं एमटीबी नागराज ने भी स्‍पष्‍ट कहा है कि वे इस्‍तीफा वापस नहीं लेंगे.

शिवकुमार को भरोसा- बागी विधायक मानेंगे और सरकार बचाएंगे

इससे पहले डीके शिवकुमार ने कहा, 'कांग्रेस बागी विधायकों की मांगों को निपटाने के लिए तैयार है. हमें ऐसे संकेत मिले हैं कि वे हमारी सरकार बचाएंगे.'

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, कानून का हवाला देते हुए शिवकुमार ने कहा कि विधायकों को कांग्रेस के टिकट पर चुना गया है. इसपर कानून के स्‍पष्‍ट प्रावधान हैं. अगर वे विश्‍वासमत के खिलाफ वोट करते हैं तो अपनी सदस्‍यता भी खो देंगे. विधायकों को नुकसान उठाना पड़ेगा. कांग्रेस ने बागी विधायकों को वापस पार्टी में लाने के प्रयास किए हैं.



शिवकुमार ने कहा, 'मुझे अपने सभी विधायकों पर भरोसा है. वे लंबे समय से कांग्रेस में रहे हैं और पार्टी के टिकट पर ही चुने गए हैं. वे बाघों की तरह लड़ रहे हैं. मुझे लगता है कि इसका कुछ अच्‍छा परिणाम निकलेगा. हम उन्‍हें खुले दिल से सुनेंगे, वे हमारे लोग हैं. कुछ प्‍वाइंट पर बातचीत के बाद वे वापस आ जाएंगे.'शिवकुमार ने बागी विधायक नागराज को मनाया था

इससे पहले शनिवार को कांग्रेस के बागी विधायक एमटीबी नागराज ने पार्टी में ही रहने का फैसला लिया था. नागराज ने डीके शिवकुमार ने मुलाकात के बाद अपने इस्‍तीफे पर पुनर्विचार का संकेत दिया था. मुलाकात के बाद नागराज ने कहा कि सुधाकर (राव) और मैंने विधायक पद से अपना इस्तीफा दे दिया था. सुबह से ही सभी नेता मुझे कांग्रेस में बने रहने के लिए कह रहे हैं. मैंने पार्टी में बने रहने का फैसला किया है. हम (चिक्काबल्लापुर विधायक) सुधाकर (राव) को भी समझाने की कोशिश करेंगे और हम दोनों अपना इस्तीफा वापस ले लेंगे.



गठबंधन सरकार में हाउसिंग मिनिस्टर हैं नागराज

नागराज 13 महीने पुरानी कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार में हाउसिंग मिनिस्टर हैं. मंत्रिमंडल में फेरबदल और विस्तार होने पर उन्हें 22 दिसंबर 2018 को मंत्री बनाया गया था. नागराज की यह टिप्पणी मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी और राज्य कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) नेता सिद्धारमैया के साथ बैठक के बाद आई है.

ये भी पढ़ें: नागराज ने बढ़ाया सस्पेंस, बागियों से मिलने मुंबई गए

इससे पहले शनिवार को, कुमारस्वामी के विधानसभा में सदन में विश्वास मत की मांग की घोषणा के बाद सत्तारूढ़ गठबंधन ने बागी विधायकों तक पहुंचने के प्रयास तेज कर दिए थे.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस के बागी विधायक नागराज वापस लेंगे इस्तीफा, कहा...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 14, 2019, 11:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर