रेड्डी के करीबी श्रीरामुलु बनेंगे कर्नाटक के डिप्टी सीएम? शाह बोले- इस पर 'खुले दिमाग' से होगी चर्चा

12 मई के विधानसभा चुनावों में श्रीरामुलु दो निर्वाचन क्षेत्रों मोलाकलमुरू और बदामी से चुनाव लड़ रहे हैं. बदामी में, वो कांग्रेस नेता और सीएम सिद्धारमैया के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं.


Updated: May 11, 2018, 9:29 AM IST
रेड्डी के करीबी श्रीरामुलु बनेंगे कर्नाटक के डिप्टी सीएम? शाह बोले- इस पर 'खुले दिमाग' से होगी चर्चा
फाइल फोटो

Updated: May 11, 2018, 9:29 AM IST
कर्नाटक के राजनीतिक गलियारों में इस बात की बड़ी चर्चा है कि अगर बीजेपी की सरकार बनी तो बी श्रीरामुलु को डिप्टी सीएम बनाया जाएगा. हालांकि इस पर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अब तक कुछ नहीं कहा है. बता दें कि बी श्रीरामुलु, कथित खनन घोटाले में आरोपी जनार्दन रेड्डी के करीबी हैं. जब इस बारे में गुरुवार को अमित शाह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस पर चुनाव के बाद इस मुद्दे पर 'खुले दिमाग' से चर्चा होगी. शाह ने रेड्डी और पार्टी से किसी भी संबंध की बात को खारिज किया. शाह ने कहा कि, 'किसी भी बीजेपी उम्मीदवार पर अवैध खनन का आरोप नहीं है. ना ही हमारा जनार्दन रेड्डी से कोई संबंध है.'

बता दें कि शाह की प्रतिक्रिया उस दिन आई जब कांग्रेस ने एक वीडियो जारी किया, जिसमें दावा किया गया है कि श्रीरामूलू ने सुप्रीम कोर्ट के एक पूर्व न्यायाधीश के दामाद को रिश्वत देकर रेड्डी भाइयों से जुड़े अवैध खनन मामले में फैसला अपने पक्ष में कराने की कोशिश की. शाह ने कांग्रेस की ओर से जारी किए गए वीडियो पर कहा कि, 'इस तरह के नकली चीजों पर विश्वास न करें जो अब और उसके बाद दौर बनाते हैं.'

12 मई के विधानसभा चुनावों में श्रीरामुलु दो निर्वाचन क्षेत्रों मोलाकलमुरू और बदामी से चुनाव लड़ रहे हैं. बदामी में, वो कांग्रेस नेता और सीएम सिद्धारमैया के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं.

शाह ने कांग्रेस पर 'अलोकतांत्रिक' तरीके से चुनाव जीतने के लिए प्रयास करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि, ये सब काम नहीं करेगा और उनकी पार्टी 130 से ज्यादा सीटें जीत जाएगी.


उन्होंने कथित 'फर्जी' वोटर आईडी कार्ड मामले का हवाला देते हुए कहा, "यह हमें बताता है कि कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए कितनी निराशा में है.'' बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि, "जिस तरह से बोगस मतदाता कार्ड एक फ्लैट में बने थे, मतदाताओं को शामिल करने के लिए फॉर्मों के काउंटरफाइल पाए गए, जिस तरह रंगीन प्रिंटर और कंप्यूटर वहां पाए गए, यह हमें बताता है कि कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए कितनी निराशा में है.''

त्रिशंकु विधानसभा की आशंकाओं को खारिज करते हुए शाह ने कहा कि सरकार बनाने के लिए किसी भी पार्टी से समर्थन मांगने का कोई सवाल नहीं है. ''त्रिशंकु विधानसभा की कोई बात ही नहीं है, हम बहुत आगे आ चुके हैं.'' उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि ''मैंने अपने नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं से जो जानकारी इकट्ठा की है, उसके अनुसार हम 130 से ज्यादा सीटें जीत रहे हैं और सरकार बनाने के लिए किसी से भी समर्थन मांगने का सवाल नहीं है.''

शाह ने कहा कि, ''मैंने कर्नाटक में 50,000 किलोमीटर की दूरी तय की है, हमने सिद्धारमैया सरकार के खिलाफ लोगों के गुस्से का अनुभव किया है."


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर कि प्रधानमंत्री ने व्यक्तिगत हमलों की शुरुआत की थी, शाह ने कहा, "औसतन, यदि आप देखें, तो ऐसे हमले 2 से 3 मिनट तक सीमित रहे हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि मीडिया ने इसे टीआरपी हासिल करन के लिए पूरे दिन चलाया, इसलिए यह ज्यादा दिखा.''

ये भी पढ़ें: कांग्रेस ने जारी किया BJP उम्मीदवार का स्टिंग वीडियो, EC ने प्रसारण पर लगाई पाबंदी

ये भी पढ़ें: दलितों और पिछड़ों के लिए कांग्रेस के दिल में कोई जगह नहीं: पीएम मोदी
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर