• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • जबरन धर्म परिवर्तन को लेकर कर्नाटक में भी आ सकता है UP जैसा कानून, सरकार कर रही विचार

जबरन धर्म परिवर्तन को लेकर कर्नाटक में भी आ सकता है UP जैसा कानून, सरकार कर रही विचार

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई. (File pic)

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई. (File pic)

Karnataka News: विधानसभा में मौजूद सत्तारूढ़ भाजपा विधायक गूलीहट्टी शेखर ने कहा कि ईसाई धर्म अपनाने के लिए उनकी मां का 'ब्रेनवॉश' किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    (रेवती राजीवन)

    बेंगलुरु. कर्नाटक की बोम्मई सरकार जल्द ही जबरन धर्मांतरण पर रोक लगाने के लिए कानून लाने वाली है. राज्य के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने मंगलवार को विधानसभा में कहा कि कर्नाटक सरकार “अनैच्छिक” धर्मांतरण पर रोक लगाने के लिए एक कानून बनाने पर विचार कर रही है. गृह मंत्री का यह बयान विधायकों द्वारा “राज्य में धर्मांतरण बढ़ाने का मुद्दा” उठाए जाने के बाद आया है. विधानसभा में मौजूद सत्तारूढ़ भाजपा विधायक गूलीहट्टी शेखर ने कहा कि ईसाई धर्म अपनाने के लिए उनकी मां का ‘ब्रेनवॉश’ किया गया है.

    होसदुर्ग से भाजपा विधायक शेखर ने कहा कि “मेरे निर्वाचन क्षेत्र में कई लोगों को धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर किया जा रहा है. गांवों में, बीमार होने पर लोगों को पूजा स्थलों पर ले जाया जाता है. उन्हें चर्चों में ले जाया जाता है और ब्रेनवॉश किया जाता है. वहां जाने के बाद, मेरी मां से कहा गया कि वह सिंदूर न लगाएं, घर में भगवान की मूर्ति न रखें. वह अब ईसाई गाने सुनती हैं. यह परिवार के लिए शर्मिंदा करने वाली बात है. दलितों और मुसलमानों सहित कई लोगों को ईसाई धर्म में परिवर्तित किया जा रहा है. अगर उनसे पूछताछ की जाती है, तो वे बलात्कार और अत्याचार सहित झूठे मामले दर्ज करते हैं.”

    ये भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीन के मामले में कैसे भारत ने पूरी बाजी पलट दी, यहां समझिए

    एक अन्य विधायक केजी बोपैया ने भी इसी तरह की बातें दोहराते हुए कहा, “न केवल ये मेरे निर्वाचन क्षेत्र में बल्कि यह पूरे राज्य में हो रहा है. हमारे पास उत्तर प्रदेश की तरह कड़े कानून होने चाहिए.”

    कांग्रेस विधायक ने जताई आपत्ति
    हालांकि, कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री केजे जॉर्ज ने भाजपा विधायकों के इन आरोपों पर आपत्ति जताई. जॉर्ज ने कहा, “आप चर्चों का सामान्यीकरण कर रहे हैं. यह कहना सही नहीं है कि चर्च झूठे बलात्कार के मामले दर्ज कर रहे हैं. यदि आप किसी विशेष चर्च को ऐसा करते हुए जानते हैं, तो उसके बारे में बताएं और उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए.”

    कर्नाटक के गृह मंत्री ने बाद में मीडिया से बात करते हुए कहा कि कर्नाटक सरकार इस मुद्दे को गंभीरता से ले रही है. उन्होंने कहा, “कई गांवों में लोग बीमार और गरीब की मजबूरी का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं और उनका धर्मांतरण कर रहे हैं. सभी तरह के जबरन धर्म परिवर्तन अवैध हैं. विधायक ने कहा है कि उनकी मां का धर्म परिवर्तन कराया गया है. साथ ही पत्नी का भी धर्म परिवर्तन कर दिया गया है जबकि उनके पति हिंदू है. इसी तरह, यह घर-घर पहुंच रहा है और घरों और गांवों में शांति भंग कर रहा है.”

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज