होम /न्यूज /राष्ट्र /

कर्नाटकः शख्स ने जीती बंपर लॉटरी! इधर किडनैप हो गया उसका दोस्त, दिलचस्प है पूरा केस

कर्नाटकः शख्स ने जीती बंपर लॉटरी! इधर किडनैप हो गया उसका दोस्त, दिलचस्प है पूरा केस

गरीब और दिलावर दोनों ऑनलाइन कैसीनो खेला करते थे, जिसमें दिलावर ने बड़ी रकम जीती. (सांकेतिक तस्वीर)

गरीब और दिलावर दोनों ऑनलाइन कैसीनो खेला करते थे, जिसमें दिलावर ने बड़ी रकम जीती. (सांकेतिक तस्वीर)

Karnataka News: बीजापुर जिले के तालिकोटी कस्बे के गरीब नवाज मुल्ला का दोस्त दिलावर हुबली में परीक्षा की तैयारी कर रहा था और पेइंग गेस्ट के रूप में रह रहा था. गरीब और दिलावर दोनों ऑनलाइन कैसीनो खेला करते थे, जिसमें दिलावर ने बड़ी रकम जीती.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

गरीब और दिलावर दोनों ऑनलाइन कैसीनो खेला करते थे, जिसमें दिलावर ने बड़ी रकम जीती.
रकम को पाने के लिए दिलावर को एक चालू खाते की जरूरत थी.
अपहरणकर्ताओं ने गरीब नवाज के परिवार से 15 लाख रुपए की फिरौती मांगी.

हुबली. बीजापुर जिले के तालिकोटी कस्बे के गरीब नवाज मुल्ला का दोस्त दिलावर हुबली में परीक्षा की तैयारी कर रहा था और पेइंग गेस्ट के रूप में रह रहा था. गरीब और दिलावर दोनों ऑनलाइन कैसीनो खेला करते थे, जिसमें दिलावर ने बड़ी रकम जीती. रकम को पाने के लिए दिलावर को एक चालू खाते की जरूरत थी. लिहाजा उसने शहर में विद्यानगर के अब्दुल करीम से मदद मांगी. करीम हुबली में रसोइए का काम करता था और दिलावर को जानता था. पैसे जमा करने के बाद दिलावर ने करीम के खाते से बड़ी रकम निकाली, जिससे करीम का माथा ठनका और वह अपहरण की योजना बनाने में जुट गया.

आगे की कहानी में करीम ने अपने दोस्तों को बुलाया, जो हुबली के विभिन्न हिस्सों में काम कर रहे थे और दिलावर के अपहरण की योजना बनाई. लेकिन उन्हें दिलावर नहीं मिला और उन्होंने यह सोचकर गरीब नवाज का अपहरण कर लिया कि उसके पास लॉटरी के पैसे हो सकते हैं. फिर पता चला कि उन्होंने गलत आदमी को उठा लिया है, तो अपहरणकर्ताओं ने गरीब नवाज के परिवार से 15 लाख की फिरौती मांगी. चूंकि परिवार के सदस्य के लिए फिरौती की राशि बहुत अधिक थी, इसलिए उन्होंने मदद के लिए पुलिस से संपर्क किया.

न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक हुबली पुलिस ने 6 अगस्त को रिपोर्ट किए गए इस अपहरण के मामले का पर्दाफाश किया. पुलिस ने घटना को लेकर कहा कि घटना गोकुल रोड की है, जब पीड़ित छात्र अपने कॉलेज से घर जा रहा था. चूंकि पीड़ित अपहरणकर्ताओं को जानता था, इसलिए आरोपी को उसे ले जाने में कोई परेशानी नहीं हुई. पुलिस ने बताया कि शहर के मंटूर रोड निवासी 21 वर्षीय गरीब नवाज मुल्ला परिवार को सकुशल वापस मिल गया है. 6 अगस्त की शाम को उसके अपहरण के तुरंत बाद, पीड़ित के भाई ने बेंडिगेरी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी. गिरफ्तार सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

पुलिस आयुक्त लाभू राम ने कहा कि कथित लॉटरी की राशि के बारे में भी जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि पीड़ित और उसके दोस्त के बैंक विवरण की जांच की जाएगी. पुलिस आयुक्त के मुताबिक अपहरणकर्ताओं के पास से एक कार और मोबाइल फोन बरामद किया गया है.

Tags: Karnataka

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर