Home /News /nation /

कर्नाटक के मंत्री का गैर-जिम्मेदाराना बयान, कहा- पसंद नहीं मास्क पहनना, पीएम भी इसे जरूरी नहीं मानते

कर्नाटक के मंत्री का गैर-जिम्मेदाराना बयान, कहा- पसंद नहीं मास्क पहनना, पीएम भी इसे जरूरी नहीं मानते

कर्नाटक के खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले और वन विभाग के मंत्री उमेश कट्टी की ट्विटर से ली गई तस्वीर.

कर्नाटक के खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले और वन विभाग के मंत्री उमेश कट्टी की ट्विटर से ली गई तस्वीर.

Karnataka Minister on Mask controversy: कर्नाटक के खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले और वन विभाग के मंत्री उमेश कट्टी (Umesh Katti) ने मास्क पर विवादास्पद बयान दिया है. कट्टी ने कहा है कि पीएम भी मास्क को अनिवार्य नहीं मानते. उन्होंने कहा, 'पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) मानते हैं कि मास्क पहनना अनिवार्य नहीं है. यह एक व्यक्तिगत जिम्मेदारी है. जो भी मास्क पहनना चाहता है वह पहन सकता है. लेकिन मुझे मास्क पहनने में कोई दिलचस्पी नहीं है, इसलिए मैंने मास्क नहीं पहना. यह मेरा व्यक्तिगत निर्णय है.'

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. एक तरफ जहां देश में कोरोना (corona) संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं वहीं देश के बड़े-बड़े नेताओं के गैर-जिम्मेदाराना बयान व हरकतें और ज्यादा परेशानी पैदा कर रही है. अब मास्क (Face Mask) को लेकर कर्नाटक के एक मंत्री (Karnatka Minister) और भाजपा नेता ने बेतुका बयान दिया है और उन्होने मास्क पहनने से इनकार कर दिया है. वे एक कार्यक्रम में बिना मास्क पहने पाए गए थे. इतना ही नहीं जब इस मुद्दे पर कर्नाटक के खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले और वन विभाग के मंत्री उमेश कट्टी (Umesh Katti) से सवाल पूछा गया तो उन्होंने गैर-जिम्मेदाराना बयान दिया. उन्होंने कहा, ‘पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) कहते हैं कि मास्क पहनना अनिवार्य नहीं है. यह एक व्यक्तिगत जिम्मेदारी है. जो भी मास्क पहनना चाहता है वह पहन सकता है. लेकिन मुझे मास्क पहनने में कोई दिलचस्पी नहीं है, इसलिए मैंने मास्क नहीं पहना. यह मेरा व्यक्तिगत निर्णय है.’

मास्क पहनना व्यक्तिगत निर्णय
उमेश कट्टी एसआर बोम्बई सरकार में मंत्री हैं. वे बेलगावी से 140 किलोमीटर दूर अथानी में एक समारोह में भाग ले रहे थे. इस कार्यक्रम में पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के एमएलसी लक्ष्मण सावदी भी उनके साथ शामिल हुए थे. कार्यक्रम को संबोधित कर जब वे बाहर आए तो मीडिया ने उनसे सवाल पूछना शुरू कर दिया. वे उस वक्त भी मास्क नहीं लगाए थे. कट्टी ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि मास्क पहनने को लेकर किसी पर कोई कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा. यह लोगों के व्यक्तिगत निर्णय पर छोड़ दिया गया है. मंत्री के इस बयान पर विपक्षी दलों ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.

विवादास्पद बयानों के लिए जाने जाते हैं मंत्री
भारी विरोध को देखते हुए मंत्री ने स्पष्टीकरण दिया है. उन्होंने कहा कि हमारे बयान को मीडिया ने गलत अर्थों में पेश किया है. उन्होंने कहा कि सभी लोगों को मास्क पॉलिसी के नियमों से बंधे हुआ होना चाहिए और अपनी जिम्मेदारी को समझनी चाहिए. मेरा बयान इससे अलग नहीं था. मैंने किसी से यह नहीं कहा कि मास्क नहीं पहनना चाहिए. लेकिन गलत संदर्भ के साथ मेरे बयान को तोड़ा-मरोड़ा जा रहा है. इस कोरोना महामारी के दौर में हम सभी को अपने कर्तव्यों के प्रति सजग रहना चाहिए. इससे पहले भी उमेश कट्टी कई बार अपने विवादस्पद बयानों के लिए चर्चा में आ चुके हैं. एक बार उन्होंने कहा था कि जिसके पास टीवी और मोटरसाइकिल है, उन्हें बीपीएल का कार्ड नहीं लेना चाहिए. अगर ऐसा नहीं किया गया तो उन पर कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Corona vaccine, Corona virus cases, COVID 19

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर