कर्नाटक के मंत्री ने अस्पताल को चेताया- कोरोना पेशेंट को बेड नहीं दिया तो रोक देंगे बिजली-पानी की सप्लाई

देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं.

कर्नाटक (Karnataka) सरकार में शहरी विकास मंत्री बृती बसवराज ने कोरोना (Corona) की इस जंग में मणिपाल हॉस्पिटल (व्हाइटफील्ड) के सीईओ अरनब मंडल से कहा कि उन्हें अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए 50 प्रतिशत बेड की जरूरत है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश में तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को देखते हुए अब अस्पतालों (Hospital) के बेड को लेकर खींचतान शुरू हो गई है. ज्यादातर राज्यों में कोरोना मरीजों की संख्या के हिसाब से अस्पताल में बेड कम पड़ने लगे हैं. यही कारण है कि प्रशासन को ज्यादा से ज्यादा बेड की व्यवस्था करने को कहा गया है. बेड की व्यवस्था करने के चक्कर में कर्नाटक (Karnataka) सरकार में शहरी विकास मंत्री बृती बसवराज ने एक अस्पताल को यहां तक चेतावनी दे दी कि अगर अस्पताल सरकार का सहयोग नहीं करेंगे तो और 50 प्रतिशत बेड कोरोना मरीजों के लिए नहीं देंगे तो उनकी बिजली और पानी की सप्लाई रोक दी जाएगी.

    कर्नाटक सरकार में शहरी विकास मंत्री बृती बसवराज ने कोरोना की इस जंग में मणिपाल हॉस्पिटल (व्हाइटफील्ड) के सीईओ अरनब मंडल से कहा कि उन्हें अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए 50 प्रतिशत बेड की जरूरत है. मंत्री बसवराज की ये बात सुनकर अस्पताल के कर्मचारी उन्हें यह समझाने की कोशिश करने में जुट गए कि वो पचास फीसदी बेड उन्हें नहीं दे सकते हैं. इसके बाद मंत्री बसवरज ने अस्पताल को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उन्होंने बेड नहीं दिया तो अस्पताल की बिजली और पानी की सप्लाई रोक दी जाएगी.

    बता दें कि प्रदेश के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बेंगलुरु जोनल प्रभारी मंत्रियों के साथ बैठकों में हमेशा किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त बेड होने पर जोर देते रहते हैं.

    इसे भी पढ़ें:- चीनी डॉक्टर का दावा- जिनपिंग सरकार ने छुपाई कोरोना की जानकारी, सबूत भी मिटाए

    बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक मंगलवार को देश में एक दिन में कोविड-19 के 47,703 नए मामले आए हैं और 654 लोगों की मौत हुई है. नए मामलों के साथ देश में अब संक्रमण के मामले बढ़कर 14,83,156 हो गए हैं. वहीं कुल 33,425 लोगों की मौत हो चुकी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.