होम /न्यूज /राष्ट्र /कर्नाटक के मुरुघा मठ के महंत को यौन उत्पीड़न के आरोप में हिरासत में लिया गया

कर्नाटक के मुरुघा मठ के महंत को यौन उत्पीड़न के आरोप में हिरासत में लिया गया

कर्नाटक के मुरुघा मठ के महंत हिरासत में (News18)

कर्नाटक के मुरुघा मठ के महंत हिरासत में (News18)

कर्नाटक के चित्रदुर्ग में स्थित मुरुघा मठ के मुख्य पुजारी शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू को दो नाबालिग लड़कियों का यौन उत्पीड़ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पोक्सो एक्ट में आरोपी महंत को हावेरी के पास बांकापुरा से हिरासत में लिया गया
आरोपी महंत कथित तौर पर गोवा भागने की योजना बना रहा था
उसका मोबाइल स्विच ऑफ था और उसका पासपोर्ट मठ में नहीं मिला

नई दिल्ली. कर्नाटक के चित्रदुर्ग में स्थित मुरुघा मठ के मुख्य पुजारी शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू को दो नाबालिग लड़कियों का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में सोमवार को हिरासत में लिया गया. यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) अधिनियम के तहत दर्ज किए गए मामले में महंत शिवमूर्ति मुरुघा शरणारू को हावेरी के पास बांकापुरा से हिरासत में लिया गया.

CNBCTV18.com की एक खबर के मुताबिक आरोपी कथित तौर पर गोवा भागने की योजना बना रहा था और उसका मोबाइल स्विच ऑफ था. उसका पासपोर्ट मठ में नहीं मिला और पुलिस को संदेह था कि वह देश से बाहर भाग सकता है. इसके बाद पुलिस ने उसके सहयोगियों के मोबाइल फोन के टावर के स्थान का पता लगाना शुरू कर दिया. सुराग के आधार पर महंत को हावेरी के करीब बंकापुर से हिरासत में लिया लिया गया.

चित्रदुर्ग के मठ के महंत शिवमूर्ति मुरुघ शरणारू के खिलाफ मैसूर पुलिस ने पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था. जिसके बाद चित्रदुर्ग पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी. पीड़ित लड़कियों को रविवार को चित्रदुर्ग ले जाया गया और बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) के समक्ष उनके बयान दर्ज किए गए. बाद में लड़कियों का मेडिकल परीक्षण कराया गया. इस बीच कुछ लोग पीड़ित लड़कियों के समर्थन में मौके पर पहुंचे और कहा कि लड़कियां सच बोलें क्योंकि वे उनके साथ हैं और उन्हें किसी से डरने की जरूरत नहीं है. पुलिस का कहना है कि चूंकि रविवार होने के कारण न्यायाधीश उपलब्ध नहीं थे, इसलिए पुलिस आज उपलब्ध सबूतों के आधार पर मामले के संबंध में जांच में आगे की कार्रवाई करेगी.

कर्नाटक के नामी मठ के पुजारी ने किया गंदा काम! पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज

जबकि महंत ने इसे अपने और मठ के खिलाफ एक साजिश बताया है. खबरों के मुताबिक चित्रदुर्ग के मठ के महंत उन पांच लोगों में शामिल हैं, जिनके खिलाफ पुलिस ने ‘पॉक्सो एक्ट’ के तहत नाबालिग लड़कियों का यौन शोषण करने के आरोप में मामला दर्ज किया है. लड़कियों ने आरोप लगाया कि महंत पिछले कुछ साल से उनका यौन शोषण कर रहे थे. इन लड़कियों ने मैसूर स्थित गैर-सरकारी संस्था ‘ओडानाडी सेवा संस्थान’ से संपर्क किया था. जिसके बाद ये पूरा मामल सामने आया.

Tags: Karnataka, Pocso act

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें