अपना शहर चुनें

States

COVID-19: कर्नाटक ने केरल के साथ लगे बॉर्डर फिर किए सील, लोगों की बढ़ीं मुश्किलें

मंगलुरु और दक्षिण कन्नड़ के विभिन्न क्षेत्रों में जाने वाले लोगों की परेशानियां एक बार फिर बढ़ गयी हैं.
मंगलुरु और दक्षिण कन्नड़ के विभिन्न क्षेत्रों में जाने वाले लोगों की परेशानियां एक बार फिर बढ़ गयी हैं.

लॉकडाउन (Lockdown) के शुरुआती दिनों में कर्नाटक (Karnataka) के अधिकारियों द्वारा लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिए जाने के कारण कासरगोड के लोगों को काफी दिक्कतें हुई थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2021, 3:48 PM IST
  • Share this:
कासरगोड. कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर कर्नाटक सरकार (Karnataka Government) ने फिर से केरल से आने-जाने वाले यात्रियों पर सख्ती बढ़ा दी है. कर्नाटक सरकार ने केरल से लगी सीमाएं बंद कर दी हैं. ऐसे में मंगलुरु और दक्षिण कन्नड़ के विभिन्न क्षेत्रों में जाने वाले लोगों की परेशानियां एक बार फिर बढ़ गयी हैं.

राष्ट्रीय राजामार्ग समेत कई सड़कों को सील किए जाने के कारण सीमावर्ती क्षेत्रों में सुबह से ही वाहनों की लंबी कतारें देखी गयीं. कोविड-19 संक्रमण नहीं होने का प्रमाणपत्र रखने वाले लोगों को ही प्रवेश की अनुमति दी जा रही है. सूत्रों ने बताया कि चार सड़कों को छोड़कर दक्षिण कन्नड़ प्रशासन ने सभी सीमाओं को बंद कर दिया है.

Coronavirus Updates: देश में बढ़ रहा कोरोना का खतरा, इन राज्यों ने बढ़ाई टेंशन



सीमा पर तैनात कर्नाटक के अधिकारियों के मुताबिक, जो लोग राज्य में दाखिल होना चाहते हैं, उन्हें यात्रा से 72 घंटे पहले तक की आरटी-पीसीआर जांच का प्रमाणपत्र दिखाना होगा.
मंगलुरु तालुक में तलापडी, बंटवाल में सराडका, पुत्तुर तालुक में नेतानिगे-मुदनुरु और सुल्लिया के जलसूर में सीमाओं पर तैनात स्वास्थ्य और पुलिसकर्मी प्रमाणपत्रों का सत्यापन करने के बाद लोगों को कर्नाटक में प्रवेश की अनुमति दे रहे हैं.

केरल के उत्तरी भाग में स्थित कासरगोड और आसपास के लोग दशकों से उपचार के लिए कर्नाटक के मंगलुरु जाते रहे हैं. कासरगोड के विभिन्न इलाकों से मंगलुरु की दूरी 10 से 50 किलोमीटर पड़ती है. वहीं, निकटवर्ती बड़ा अस्पताल कन्नूर में है जो कि 100 किलोमीटर दूर है. (PTI इनपुट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज