कर्नाटक में कोरोना के लिए 12 सौ करोड़ का पैकेज, वैक्सीन का ग्लोबल टेंडर

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा. (तस्वीर-ani)

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा. (तस्वीर-ani)

सीएम बीएस येदियुरप्पा (Karnataka CM BS Yediyurappa) ने कहा है-फूल, सब्जी और फल की खेती के करने वाले किसानों को 10 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर के हिसाब से दिए जाएंगे. इसके अलावा ऑटो, टैक्सी, कैब ड्राइवरों को 3 हजार रुपए महीने दिए जाएंगे. सब्जी बेचने वालों को 2 हजार रुपए हर महीने दिए जाएंगे.

  • Share this:

बेंगलुरु. कोरोना से समाज के कमजोर तबकों को राहत देने के लिए कर्नाटक सरकार (Karnataka Government) ने 12 सौ करोड़ के विशेष पैकेज (Special Package) की घोषणा की है. सीएम बीएस येदियुरप्पा ने कहा है-फूल, सब्जी और फल की खेती के करने वाले किसानों को 10 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर के हिसाब से दिए जाएंगे. इसके अलावा ऑटो, टैक्सी, कैब ड्राइवरों को 3 हजार रुपए महीने दिए जाएंगे. सब्जी बेचने वालों को 2 हजार रुपए हर महीने दिए जाएंगे.

राज्य सरकार ने जानकारी दी है कि कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान 2.06 लाख लोगों का मुफ्त में इलाज किया गया है. इसके लिए अब तक 956 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं. इसके अलावा अब 18-45 आयु समूह के लोगों के भी फ्री वैक्सीनेशन की व्यवस्था की गई है. 3 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर दिया गया है जिसकी कीमत 1 हजार करोड़ है.

वहीं राज्य के डिप्टी सीएम सीएन अश्वथनारायण ने ने कहा-हमने वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर निकाला है. हमें देखना है कि किस तरह का जवाब आता है. दुनिया में कोई भी वैक्सीन कंपनी इसके लिए आवेदन कर सकती है. हम वैक्सीन के लिए हर कोशिश कर रहे हैं.

2 करोड़ डोज का ऑर्डर SII और 1 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर भारत बायोटेक को 
उन्होंने कहा-हमने 2 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर सीरम इंस्टिट्यूट और 1 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर भारत बायोटेक को दिया था. कंपनियों ने वैक्सीन की सप्लाई शुरू कर दी है. सीरम इंस्टिट्यूट 10 लाख डोज और भारत बायोटेक 1.5 लाख डोज भेज चुका है. हम कंपनियों से इस रफ्तार को बढ़ाने के लिए कह रहे हैं.

आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट 24 घंटे के भीतर मुहैया कराने की कोशिश

कोविड टेस्टिंग पर उन्होंने कहा-अब हम आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट 24 घंटे के भीतर मुहैया कराने की कोशिश कर रहे हैं. इसके पहले तक चार पांच दिन का समय लग जा रहा था. इस वक्त राज्य में सिंगल टेस्टिंग पर काम चल रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज