दिल्ली पहुंचे कार्ति चिदंबरम, कहा- पिता की गिरफ्तारी के खिलाफ जंतर-मंतर पर धरना दूंगा

कार्ति चिदंबरम (Karti Chidambaram) के मुताबिक उन पर लगाए गए सारे आरोप झूठे हैं. उन्होंने ये भी कहा कि इतनी पूछताछ के बाद भी अभी तक इस केस में चार्जशीट फाइल क्यों नहीं हुई है?

News18Hindi
Updated: August 22, 2019, 12:16 PM IST
दिल्ली पहुंचे कार्ति चिदंबरम, कहा- पिता की गिरफ्तारी के खिलाफ जंतर-मंतर पर धरना दूंगा
कार्ति चिदंबरम
News18Hindi
Updated: August 22, 2019, 12:16 PM IST
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम (Karti Chidambaram) गुरुवार सुबह दिल्ली पहुंचे. यहां उन्होंने खुद का बचाव करते हुए आईएनएक्स मीडिया (INX Media Case) से जुड़े इस पूरे मामले को उनके पिता को फंसाने की साजिश करार दिया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वह आईएनएक्स मीडिया (INX Media) पूर्व के मालिक पीटर या इंद्राणी मुखर्जी (Indrani Mukerjea) से कभी मिले तक नहीं हैं.

कार्ति ने कहा कि इस मामले में चिदंबरम (P Chidambaram) के समर्थन के लिए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी का धन्यवाद दिया. इसके साथ ही उन्होंने कहा, 'यह सिर्फ मेरा पिता ही नहीं कांग्रेस को भी निशाना बनाने की साजिश है. इस गिरफ्तार के खिलाफ मैं जंतर-मंतर पर जाकर धरना दूंगा.'


कार्ति ने अपने पिता के खिलाफ की गई कार्रवाई को लेकर सीबीआई और बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि सरकार आर्टिकल 370 से ध्यान भटकाने के लिए ये लिए ये कार्रवाई कर रही है. बता दें कि कल देर रात सीबीआई ने चिदंबरम को हिरासत में लिया था.
Loading...

बदले की कार्रवाई
उन्होंने कहा, ''मेरे पिता पी चिदंबरम को इसलिए गिरफ्तार किया गया है क्योंकि बीजेपी की सरकार आर्टिकल 370 से ध्यान भटकाना चाहती है. ये पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित बदले की कार्रवाई है.’

चार्जशीट क्यों नहीं?
कार्ति चिदंबरम के मुताबिक उन पर लगाए गए सारे आरोप झूठे हैं. उन्होंने कहा, '' इस केस में कोई दम नहीं है. ये मामला 2008 का है जबकि इसमें FIR साल 2017 में दर्ज किया गया. मेरे खिलाफ चार बार छापे मारे गए हैं. बीस बार मुझे पूछताछ के लिए बुलाया गया है. इतनी पूछताछ के बाद भी अभी तक इस केस में चार्जशीट फाइल नहीं हुई है.''

आईएनएक्स मीडिया मामले में आरोपों का सामना कर रहे पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया है.


कार्ति चिदंबरम ने अपने प्रभाव का गलत इस्तेमाल किया
सूत्रों के मुताबिक, कार्ति की कंपनी चेस मैनेजमेंट सर्विस प्राइवेट लिमिटेड की सलाह पर आईएनएक्स मीडिया ने 26 जून 2008 को इस बारे में सफाई दी. कंपनी का कहना था कि निवेश शेयर में हुए मुनाफे की शक्ल में किया गया था. सीबीआई का आरोप है कि इसके बाद कार्ति चिदंबरम के प्रभाव की वजह से एफआईपीबी के अधिकारियों ने इस ओर आंखें मूंद लिया. इतना ही नहीं एफआईपीबी के कुछ अधिकारियों ने आईएनएक्स मीडिया को गलत तरीके से फायदा पहुंचाया.

नियमों की अनदेखी की गई 
एफआईपीबी ने आईएनएक्स न्यूज प्राइवेट लिमिटेड को फ्रेश अप्रूवल पाने के लिए फिर से अप्लाई करने को कहा. एफआईपीबी ने रेवेन्यू डिपार्टमेंट की सलाह को भी अनदेखा कर दिया. रेवेन्यू डिपार्टमेंट ने इस मामले की जांच की सिफारिश की थी और कहा था कि एफडीआई में नियमों की अनदेखी की गई है और एफआईपीबी के अप्रूवल के बिना निवेश हुआ है. इस मामले में कार्ति चिदंबरम पर भी शिकंजा कसने वाला है.

ये भी पढ़ें:

चिदंबरम ने रिश्वत के पैसे से स्पेन में टेनिस क्लब खरीदा- ED

पाकिस्तान के होश उड़ाने आ गए अभिनंदन, मिग 21 से भरी उड़ान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 9:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...