मरीना बीच पर दफनाए जाने वाले तमिलनाडु के पहले पूर्व मुख्यमंत्री होंगे करुणानिधि

मरीना बीच पर दफनाए जाने वाले तमिलनाडु के पहले पूर्व मुख्यमंत्री होंगे करुणानिधि
एम करुणानिधि का मंगलवार को 94 वर्ष की उम्र में निधन हो गया.

करुणानिधि तमिलनाडु के पहले पूर्व मुख्यमंत्री होंगे जिनको द्रविड़ आंदोलन में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अन्नादुरई, एमजी रामचंद्रन और जे जयललिता के साथ दफनाया जाएगा.

  • News18.com
  • Last Updated: August 8, 2018, 12:33 PM IST
  • Share this:
मद्रास हाईकोर्ट ने बुधवार को आदेश दिया कि करुणानिधि का पार्थिव शरीर मरीना बीच पर दफनाया जा सकता है. इसी के साथ करुणानिधि तमिलनाडु के पहले पूर्व मुख्यमंत्री होंगे जिनको द्रविड़ आंदोलन में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अन्नादुरई, एमजी रामचंद्रन और जे जयललिता के साथ दफनाया जाएगा.

ये भी पढ़ेंः जब करुणानिधि ने एक भी सीट न होने के बाद भी 3 PM बनवा दिए

कोर्ट में सारी बहस इस बात पर केंद्रित थी कि क्या पूर्व मुख्यमंत्रियों को दफ्न करने की अनुमति दी जानी चाहिए. सरकार ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि 'कलैनार' ने खुद ही एक बार एमजी रामचंद्रन की पत्नी जानकी को मरीन बीच पर दफनाए जाने का विरोध किया था. डीएमके ने इसे कमज़ोर तर्क करार देते हुए इसका विरोध किया. जानकी सौ दिनों के लिए तमिलनाडु की मुख्यमंत्री रही थीं. बाद में कानून-व्यवस्था ठीक न होने के आधार पर केंद्र ने कैबिनेट को बर्खास्त कर दिया था.



ये भी पढ़ेंः 'मैं जिंदगीभर आपको लीडर कहता रहा, क्या आखिरी बार अप्पा कहके पुकारूं'
सरकार के शपथपत्र के अनुसार, 1996 में जानकी की मौत के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री करुणानिधि ने भारत सरकार द्वारा पारित किए गए प्रोटोकॉल को फॉलो किया. तमिलनाडु सरकार द्वारा दाखिल किए गए प्रति-शपथपत्र में कहा गया कि करुणानिधि को दफनाने के लिए जो जगह मुहैया कराई गई है उसका आकार दो एकड़ है. इसमें कहा गया है कि थिरू कामराज जैसे दूसरे लोगों को भी इसमें जगह दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading