होम /न्यूज /राष्ट्र /कश्मीर: घाटी में ज्यादातर जगहों पर लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं बहाल

कश्मीर: घाटी में ज्यादातर जगहों पर लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं बहाल

अधिकारियों के मुताबिक घाटी में अधिकतर स्थानों पर लैंडलाइन टेलीफान सेवाएं बहाल कर दी गईं हैं.

अधिकारियों के मुताबिक घाटी में अधिकतर स्थानों पर लैंडलाइन टेलीफान सेवाएं बहाल कर दी गईं हैं.

केन्द्र सरकार ने पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 (Article 370) के अधिकतर प्रावधान हटाने और जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) तथा ...अधिक पढ़ें

    कश्मीर (Kashmir) में स्थिति बेहतर होते देख प्रशासन ने अधिकतर स्थानों पर लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं (Landline Phone Service) बहाल कर दी हैं. अधिकारियों ने बताया कि शनिवार से घाटी में कहीं भी किसी अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है. उन्होंने बताया कि स्थिति बेहतर होते देख संचार सेवाओं में ढील दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि घाटी के अधिकतर इलाकों में लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं बहाल कर दी गई हैं. उन्होंने बताया कि श्रीनगर सहित कई जगह शनिवार शाम लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं बहाल कर दी गईं. उन्होंने बताया कि कुछ स्थानों को छोड़कर लैंडलाइन सेवाएं पूरी तरह बहाल करने का काम जारी है.

     पांच अगस्त से ही सेवाएं निलंबित थीं

    लाल चौक और प्रेस एन्वलेव में सेवाएं अब भी निलंबित हैं. राज्य के प्रधान सचिव एवं सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने शनिवार को कहा कि अन्य आठ एक्सचेंज, जिसके अंतर्गत 5,300 लैंडलाइन सेवाएं आती हैं, सप्ताहांत तक बहाल किए जाएंगे. बीएसएनएल और अन्य निजी इंटरनेट सेवाओं सहित मोबाइल टेलीफोन सेवाएं और इंटरनेट सेवाएं अभी निलंबित ही हैं. केन्द्र सरकार ने पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान हटाने और जम्मू-कश्मीर तथा लद्दाख को दो अलग-अलग केन्द्रशासित प्रदेश बनाने का फैसला किया था, जिसके बाद ये सेवाएं निलंबित कर दी गई थीं.

    दुकानें अब भी हैं बंद

    कश्मीर घाटी के अधिकतर इलाकों से प्रतिबंध हटा दिए गए हैं लेकिन कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षाकर्मी अब भी वहां तैनात हैं. कश्मीर में बाजार लगातार 21वें दिन बंद रहे, दुकानें और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान भी बंद रहे. वहीं, सार्वजनिक वाहन भी सड़कों से नदारद रहे. साप्ताहिक बाजार भी नहीं लगे, उन्होंने बताया कि शहर में कुछ जगह हालांकि कुछ फेरीवालों ने दुकानें लगाईं.

    ये भी पढ़ें- UAE के बाद पीएम मोदी ने बहरीन में शुरु किया रुपे कार्ड

    Tags: Article 370, India, Kashmir, Kashmir Valley

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें