अमरनाथ यात्रा: फ्लाइट टिकट रद्द कराने पर एयर इंडिया और विस्‍तारा लौटाएगी पूरा पैसा

अमरनाथ यात्रा: फ्लाइट टिकट रद्द कराने पर एयर इंडिया और विस्‍तारा लौटाएगी पूरा पैसा
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

विस्‍तारा एयरलाइंस ने मौजूदा स्थिति को देखते हुए अगले सात दिनों तक (9 अगस्‍त तक) जम्‍मू कश्‍मीर से जुड़ी उड़ानों को रद्द किए जाने या रिशेड्यूल किए जाने पर पूरा किराया लौटाने का ऐलान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 2, 2019, 11:37 PM IST
  • Share this:
जम्मू-कश्मीर में बारूदी सुरंग मिलने के बाद केंद्र सरकार ने सभी अमरनाथ यात्रियों को वापस बुलाने का फैसला लिया है. सरकार ने सभी सैलानियों को जम्मू-कश्मीर से वापस लौटने का आदेश जारी कर दिया है. यहां की तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए डीजीसीए ने सभी एयरलाइंस को श्रीनगर से अतिरिक्‍त उड़ान भरने के लिए तैयार रहने की सलाह दी है.

विस्‍तारा एयरलाइंस ने मौजूदा स्थिति को देखते हुए अगले सात दिनों तक (9 अगस्‍त तक) जम्‍मू कश्‍मीर से जुड़ी उड़ानों को रद्द किए जाने या रिशेड्यूल किए जाने पर पूरा किराया लौटाने का ऐलान किया है. हालांकि अगर यात्री डेट चेंज कराते हैं, तो उनसे किराए का जो अंतर होगा, वे लिया जाएगा. एयर इंडिया, विस्‍तारा और गो एयर ने अभी तक ये ऐलान किया है.





बता दें कि अमरनाथ यात्रा के रास्ते से भारतीय सेना ने अमेरिकी स्नाइपर राइफल M-24 बरामद की है. इसके अलावा रास्ते से पाकिस्तान में निर्मित कई बारूदी सुरंग भी मिली हैं. भारतीय सेना ने बयान जारी कर बताया है कि फिलहाल इलाके में ऑपरेशन जारी है और अन्य बारूदी सुरंगों के मिलने की भी आशंका है.
अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने का था प्‍लॉन

भारतीय सेना ने शुक्रवार को एक प्रेस कांफ्रेंस का बताया कि आतंकियों ने अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने का प्लान बनाया हुआ था, इसी की छानबीन के तहत यात्रा के रास्ते से पाकिस्तान में बनायी गई बारूदी सुरंग बरामद हुई हैं. लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लन ने बताया कि एक पाकिस्तान निर्मित बारूदी सुरंग बरामद की गई है. इससे स्पष्ट होता है कि पाकिस्तानी आर्मी अभी भी आतंकियों का साथ दे रही है, हम इस बात को अब और बर्दाश्त नहीं करेंगे.

'पाकिस्तानी आर्मी घाटी में शांति नहीं चाहती'

आर्मी की प्रेस कांफ्रेंस में ढिल्लन के साथ डीजीपी दिलबाग सिंह और सीआरपीएफ के आईजी जुल्फीकार हसन भी मौजूद थे. ढिल्लन ने कहा कि पाकिस्तानी आर्मी घाटी में शांति भंग करने के इरादे से इस तरह आतंकियों का साथ दे रही है. ढिल्लन ने आगे कहा कि पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठनों ने ही बीते दिनों हर हमले में IED और बारूदी सुरंगों का इस्तेमाल किया है.

ये भी पढ़ें: डरे हुए हैं लोग, पिछले 70 सालों में ऐसा कभी नहीं हुआ: मुफ्ती
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज