बाढ़ से बचने के लिए बेडरूम में घुस गया टाइगर, फिर करने लगा ये हरकत

असम के काजीरंगा पार्क में बाढ़ का पानी भर गया, जिसके कारण रॉयल बंगाल टाइगर एक घर में घुस गया और वहां बेड पर आराम फरमाने लगा.

News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 5:35 PM IST
बाढ़ से बचने के लिए बेडरूम में घुस गया टाइगर, फिर करने लगा ये हरकत
घर में घुसकर बेडरूम में आराम फरमाने लगा टाइगर
News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 5:35 PM IST
असम इस समय बाढ़ के प्रकोप से जूझ रहा है. राज्य में हालात ऐसे हैं कि विश्व प्रसिद्ध काजीरंगा राष्ट्रीय पार्क का करीब 95 फीसदी हिस्सा पानी में डूब गया है. इससे इंसानों के साथ-साथ जानवरों को भी मुसीबत झेलनी पड़ रही है. इस बीच काजीरंगा पार्क इलाके में एक ऐसी घटना सामने आई, जिससे गांव में अफरा-तफरी मच गई. दरअसल, पार्क से निकलकर रॉयल बंगाल टाइगर एक घर में घुस गया और बेड पर आराम फरमाने लगा. यह देखकर लोगों में भगदड़ मच गई.

गांव के एक निवासी मोतीलाल उर्फ रफीकुल इस्लाम ने बताया कि वह गुरुवार सुबह अपनी दुकान पर बैठे थे. उसी दौरान कुछ लोगों को उन्होंने टाइगर, टाइगर कहते हुए सुना! उन्होंने जैसे ही बाहर निकलकर देखा तो करीब 20 फीट दूरी पर टाइगर उनकी दुकान के पास खड़ा था. मोतीलाल ने बताया कि इसके बाद बाघ ने मुझे देखा और चुपचाप दुकान में अपना रास्ता बनाते हुए मेरे कमरे में घुस गया और अंदर बेड पर जाकर बैठ गया. इसके बाद मैं अपनी जान बचाने के लिए वहां से भाग गया.

रास्ता भटक गया था बंगाल टाइगर
बताया जा रहा है कि यह बाघ राष्ट्रीय राजमार्ग-37 के माध्यम से कार्बी पहाड़ियों की ऊंचाई पर जाने के लिए काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान से भटक गया. क्योंकि पूरे असम में मूसलाधार बारिश के कारण पार्क में पानी भर गया है. कोई अन्य जगह नहीं मिलने पर टाइगर ने काजीरंगा के बागोरी रेंज के पास हरमोटी गांव में स्थित एक दुकान में शरण ली.

वाइल्डलाइफ ट्रस्ट ऑफ इंडिया ने किया ट्वीट
मोतीलाल ने इस घटना की जानकारी वन विभाग के हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके दी. जिसके बाद वन विभाग की एक टीम मौके पर पहुंची और तुरंत इलाके की घेराबंदी की. टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद बाघ को पकड़ लिया और उसे सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है. वाइल्डलाइफ ट्रस्ट ऑफ इंडिया ने ट्वीट कर घर में बैठे टाइगर की तस्वीर पोस्ट की है.



अब तक 17 जानवरों की मौत
असम में लगातार हो रही बारिश काजीरंगा के वन्यजीवों को भारी नुकसान पहुंचा रही है. पिछले एक हफ्ते में काजीरंगा में 17 जानवरों की मौत हो चुकी है. इनमें से 9 की मौत वाहन की चपेट में आने से तब हुई जब उन्हें काजीरंगा से निकालने की कोशिश की जा रही थी. अधिकारियों का कहना है कि उद्यान का 95 फीसदी हिस्सा पानी में डूब चुका है.

ये भी पढ़ें-  इमरान खान ने भी माना कुलभूषण जाधव पर ICJ का फैसला सही, कानून के तहत बढ़ेंगे आगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 18, 2019, 5:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...