AAP में शामिल हो सकते हैं नवजोत सिंह सिद्धू, केजरीवाल बोले उनका स्वागत है

AAP में शामिल हो सकते हैं नवजोत सिंह सिद्धू, केजरीवाल बोले उनका स्वागत है
नवजोत सिंह सिद्धू उस मैच में 90 रन पर बल्‍लेबाजी कर रहे थे (फ़ाइल फोटो)

गुरुवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal ) ने कहा कि अगर सिद्धू उनकी पार्टी में शामिल होना चाहते हैं को वो उनका स्वागत करेंगे.

  • Share this:
नई दिल्ली. क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं. फिलहाल वो कांग्रेस में हैं. गुरुवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के चीफ अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal ) ने कहा कि अगर सिद्धू  उनकी पार्टी में शामिल होना चाहते हैं तो वो उनका स्वागत करेंगे. उन्होंने ये बातें न्यूज़18 इंडिया के कॉनक्लेव में कहीं.

क्या है केजरीवाल की राय
केजरीवाल से सिद्धू के बारे में पूछा गया कि क्या आम आदमी पार्टी में उनके शामिल होने की बात चल रही है तो इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, 'हमारी पार्टी में उनका स्वागत है.' केजरीवाल से ये भी पूछा गया कि क्या उनकी पार्टी की तरफ से सिद्धू से किसी ने बातचीत की है? तो केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस के संकट के दौर में अगर किसी नेता से राजनीति के मुद्दे पर सवाल पूछे जाएं तो वो ज्यादा विस्तार से कुछ नहीं बता सकते.

प्रशांत किशोर कर रहे हैं बात



ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि सिद्धू पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले AAP में शामिल हो सकते हैं. दावा किया जा रहा है कि इस सिलसिले में सिद्धू चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर से बातचीत कर रहे हैं. बता दें कि पिछले विधानसभा चुनाव से पहले भी सिद्धू के आम आदमी पार्टी में शामिल होने को लेकर अटकलें लगाई जा रही थीं. लेकिन उस वक्त मुख्यमंत्री पद को लेकर बात नहीं बनी थी. इसके बाद सिद्धू कांग्रेस में शामिल हो गए थे. उन्हें कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में मंत्री भी बनाया गया था.



कांग्रेस में साइडलाइन!
नवजोत सिंह सिद्धू साल 2017 में बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए थे. कांग्रेस ने उन्हें कैबिनेट में भी जगह दी थी. लेकिन बाद में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने उनसे मंत्री पद छीन लिया था. इसके बाद से सिद्धू पार्टी में अलग-थलग पड़ गए हैं. इन दिनों टूट्यूब चैनल के जरिए जनता के सामने वो अपनी बातें रखते हैं.

भगवंत मान हैं सिद्धू के पक्ष में
इस साल मार्च में आप के पंजाब यूनिट के प्रमुख भगवंत मान ने कहा था कि अगर सिद्धू उनकी पार्टी में शामिल होते हैं तो वो सबसे पहले उनका स्वागत करेंगे. कांग्रेस ने 2017 के विधानसभा चुनाव में शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी को हराकर सत्ता हासिल की थी. पंजाब की 117 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस ने 77 सीटें जीतीं. पहली बार आप ने यहां 20 सीटों पर कब्जा करने में सफलता पाई. वहीं शिरोमणि अकाली दल को 15 और बीजेपी को सिर्फ तीन सीटों पर जीत मिली थी.

ये भी पढ़ें:-

देश में खतरनाक हुआ कोरोना, 24 घंटे में 273 की मौत, जानें राज्यों का हाल

PAK: मौलाना ने कोरोना को बताया मुस्लिमों के खिलाफ साजिश, कहा- अस्पताल न जाएं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading