केरल: गर्भवती हथिनी की मौत के मामले में नया खुलासा, अनानास में नहीं भरा था विस्फोटक

केरल: गर्भवती हथिनी की मौत के मामले में नया खुलासा, अनानास में नहीं भरा था विस्फोटक
27 मई को केरल में प्रेग्नेंट हथिनी की विस्फोटक अनानास खाने से मौत हो गई थी.

Kerala Elecphant Death: हथिनी को मुंह में गंभीर चोट लगी थी, इसलिए उसने अपने आपको दर्द से बचाने के लिए पानी में ही उतरना सही समझा और वहीं तीन दिन बाद उसकी मौत हो गई.

  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala) के पलक्कड़ (Palakkad) में एक गर्भवती हथिनी (Pregnant Elephant) की मौत के मामले में पकड़े गए अभियुक्त ने नया खुलासा किया है. पुलिस के मुताबिक, अभियुक्त ने बताया कि उसने अनानास नहीं, नारियल में पटाखे भरे थे, जिसे खाने से हथिनी जख्मी हुई थी. मन्नारकाड के वन्यजीव संरक्षण अधिकारी सुनील कुमार ने बताया इस मामले में ​गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ की जा रही है.

इस पूरे मामले की जांच कर रहे वन्य विभाग के अधिकारी गर्भवती हथिनी की मौत के मामले में पकड़े गए अभियुक्त विल्सन (40) को उस स्थान पर भी ले गए, जहां पर नारियल में विस्फोट भरे गए थे. अभी तक की जांच के मुताबिक अभियुक्त की मदद दो अन्य लोगों ने भी की थी, जो अभी फरार चल रहे हैं. बता दें कि अभियुक्त रबर की खेती में मज़दूरी का काम करता है. जांच में पता चला है कि यहां के लोग अपने खेत की रक्षा करने के लिए फलों के अंदर विस्फोट डाल देते हैं, ताकि जंगली जानवरों को डराया जा सके.

अधिकारियों ने बताया कि हथिनी को नारियल दिया गया या उसने खुद खाया ये तो जांच का विषय है, लेकिन विस्फोटक भरा नारियल खाने से उसका मुंह पूरी तरह से जख्मी हो गया था. वह खाना तो छोड़िए पानी तक नहीं पी पा रही थी. हथिनी को मुंह में गंभीर चोट लगी थी, इसलिए उसने अपने आपको दर्द से बचाने के लिए पानी में ही उतरना सही समझा, जिससे उसका दर्द कम हो सके. काफी देर तक यहां पर खड़े रहने के बाद उसने पलक्कड़ के वेल्लियार नदी में दम तोड़ दिया. बताया जाता है कि हथिनी ने पिछले 20 से कुछ नहीं खाया था.



इसे भी पढ़ें :- चंदौली में 10 महीने से जंजीर में बंधा हाथी काट रहा 'सजा', महावत को मिली जमानत



क्या है पूरा मामला?
घटना 27 मई की है. बताया जा रहा है कि एक हथिनी कई दिनों से भूखी थी. खाने की तलाश में वो गांव की तरफ आ गई थी. आरोप है कि कथित तौर पर कुछ लोगों ने हथिनी को अनानास खाने को दिया, जिसके अंदर पटाखे भरे हुए थे. इसे खाते ही हथिनी के मुंह में जोरदार विस्फोट हुआ और उसका जबड़ा क्षतिग्रस्त हो गया. ये विस्फोट इतना तेज था कि हथिनी के दांत भी टूट गए. जिसके बाद से ही वह पास के एक तालाब में पड़ी रही. बीच-बीच में थोड़ा-थोड़ा पानी पिया करती थी. इस घटना के तीन दिन बाद दर्द से कराहते हुए उसने दम तोड़ दिया. हथिनी के पेट में बच्चा भी था. हथिनी की इस दर्दनाक मौत के बाद लोग आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :- लगभग 2 साल लंबी चलती है हथिनी की प्रेग्नेंसी, जानिए क्या है इसके पीछे का रहस्य!

2 लाख का इनाम
इस बीच आंध्र प्रदेश के एक किसान ने हत्यारों की जानकारी देने वालों को 2 लाख का इनाम देने का ऐलान किया है. हैदराबाद के रहने वाले बीटी श्रीनिवासन ने इनाम की घोषणा करते हुए कहा, 'जिस तरह से गर्भवती हथिनी के साथ चार दिनों तक टॉर्चर किया मेरी आंखों में आंसू आ गए. उसे मारने वाले इंसान नहीं हैं. लिहाजा मैंने अपनी पर्सनल सेविंग से हत्यारों को जानकारी देने वालों को 2 लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.'

इसे भी पढ़ें :-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading