केरल विधानसभा चुनाव 2021: पुतुपल्ली में फिर जीते कांग्रेस के प्रमुख चेहरों में से एक ओमन चांडी

2016 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से ओमन चांडी ने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के जायक सी थॉमस को 27092 वोटों के मार्जिन से हराया था.

2016 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से ओमन चांडी ने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के जायक सी थॉमस को 27092 वोटों के मार्जिन से हराया था.

Kerala Assembly Elections 2021: केरल विधानसभा चुनाव में चांडी कांग्रेस के प्रमुख चेहरों में से एक रहे हैं. वह पुथुपल्यिन कोट्टायम विधानसभा सीट से उम्मीदवार हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. केरल विधानसभा चुनाव 2021 के मतगणना परिणाम आना शुरू गए हैं. पुतुपल्ली (Puthupally) केरल विधानसभा सीट महत्वपूर्ण विधानसभा सीट है, यहां से ओमन चांडी इस बार भी जीत गए हैं. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) से कैंडिडेटस ओमन चांडी को 46.86 फीसदी वोट मिले. इन्होंने Communist Party of India (Marxist) के JAICK C THOMAS को कड़ी टक्कर से हराया. थोमस को 41.93 फीसदी वोट मिले.

2016 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) ने जीत दर्ज की थी. केरल विधानसभा चुनाव में चांडी कांग्रेस के प्रमुख चेहरों में से एक रहे हैं. पुतुपल्ली में माकपा से युवा नेता जैक सी. थॉमस और भाजपा से एन. हरि चांडी के खिलाफ थे.

चुनावी इतिहास रहा बरकरार 

ओमन चांडी (Oommen Chandy) कांग्रेस (Congress) के दो बार के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके हैं. अब देखना ये है कि कि केरल का चुनावी इतिहास हर चुनाव की तरह इस बार भी बरकरार रहेगा या नहीं.
2016 में क्या हुआ था

2016 में पुतुपल्ली में कुल 53.42 प्रतिशत वोट पड़े. इस संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं थॉमस चाझिकादान, जो केरल कांग्रेस (एम) से हैं. उन्होंने कम्‍युनिस्‍ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्‍सवादी)के वीएन वसावन को 106259 से हराया था.

ओमन चांडी ने  27092 वोटों के मार्जिन से हराया था



पुतुपल्ली विधानसभा सीट केरल के कोट्टायम जिले में आती है. 2016 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से ओमन चांडी ने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के जायक सी थॉमस को 27092 वोटों के मार्जिन से हराया था.

केरल में विपक्ष के नेता

ओमन चांडी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री हैं. वे केरल में विपक्ष के नेता रहे हैं. उन्होंने केरल छात्र संघ के साथ अपना राजनितिक करियर शुरू किया था. 2011 में वे 10वीं बार पुथुपल्ली निर्वाचन क्षेत्र से जीतने के बाद मुख्यमंत्री चुने गए थे.

बता दें कि केरल में पिनराई विजयन की अगुवाई में लेफ्ट की सरकार है. यहां लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट (एलडीएफ) के पास कुल 91 विधायक हैं, जबकि यूनाइडेट डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) के पास 47 सीटें हैं. इसके अलावा एनडीए के पास यहां एक सीट और केरल जनपक्षम सेक्युलर (केजेएस) के खाते में एक सीट है.

ये भी पढ़ें-

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव परिणाम Live: BJP दे रही टक्कर जोरदार, नंदीग्राम में शुवेंदु की ममता पर बढ़त बरकरार

Kerala Assembly Election Result: केरल में इतिहास रचता दिख रहा लेफ्ट फ्रंट, बीजेपी के ई. श्रीधरन को भी बढ़त
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज