• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • मंदिर के पास होर्डिग पर CM पिनराई विजयन को बताया गया केरल का भगवान, लोगों ने उठाए सवाल

मंदिर के पास होर्डिग पर CM पिनराई विजयन को बताया गया केरल का भगवान, लोगों ने उठाए सवाल

 मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन (फ़ाइल फोटो)

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन (फ़ाइल फोटो)

kerala CM Pinarayi Vijayan Flex Board: पचीरी विष्णु मंदिर समिति के अध्यक्ष रवींद्रन एम. ने इन होर्डिंग्स को लेकर चिंता जताई. उन्होंने कहा कि इससे कानून-व्यवस्था खराब सकती है.

  • Share this:
    कोच्चि. केरल के वलानचेरी में एक होर्डिंग को लेकर हंगामा खड़ा हो गया है. विष्णु मंदिर के बाहर होर्डिंग पर मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन (CM Pinarayi Vijayan ) को केरल का भगवान बताया गया है. बढ़ते विवाद के बीच CPM के नेताओं ने कहा है कि इसे लगाने में उनका कोई हाथ नहीं है. होर्डिंग पर पिनाराई विजयन की एक बड़ी सी तस्वीर के साथ लिखा गया है- 'आपने पूछा भगवान कौन है. लोगों ने कहा कि जो भोजन देता है.' विष्णु मंदिर के अधिकारियों का कहना है कि ये बोर्ड मुख्य सड़क पर मई के महीने में उसी दिन लगे थे जिस दिन एलडीएफ सरकार का शपथ ग्रहण था.

    अधिकारियों ने ये भी दावा किया कि ये होर्डिंग सीपीएम के कार्यकर्ताओं ने लगाया था. हालांकि स्थानीय सीपीएम नेताओं ने इस तरह के आरोपों का खंडन किया है. उनका कहना है कि बोर्ड लगाने में उनका कोई हाथ नहीं है.

    ये भी पढ़ें: मुख्‍यमंत्री पद से हटने के संकेत देते हुए बोले येडियुरप्‍पा- पहले दिन से ही चुनौतियों का कर रहा सामना

    होर्डिंग पर चुनाव का ज़िक्र
    शहर में कुछ और ऐसे ही विज्ञापन की तरह बड़े बोर्ड लगाए गए हैं. इस पर सीएम और कैबिनेट मंत्रियों की तस्वीरें है. फ्लेक्स बोर्ड पर लिखा गया है कि जिन स्थानों पर प्रमुख मंदिर स्थित थे, वे इस चुनाव में 'लाल' हो गए थे. यानी वहां सीपीएम की जीत हुई. कुछ और फ्लेक्स बोर्ड पर लिखा था कि चुनावों में और क्या सबूत चाहिए कि देवता कम्युनिस्ट थे.

    मंदिर समिति ने जताई चिंता
    अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए, पचीरी विष्णु मंदिर समिति के अध्यक्ष रवींद्रन एम ने इन होर्डिंग्स को लेकर चिंता जताई. उन्होंने कहा कि इससे कानून-व्यवस्था खराब सकती है. उन्होंने कहा, 'कुछ लोगों ने दूसरे बोर्ड के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया, जिसने मंदिरों के बाहर चुनावी परिणामों का उल्लेख किया और कहा कि वे बोर्ड को जला देंगे. इससे कानून-व्यवस्था की समस्या हो सकती है, हमने वालेंचेरी पुलिस से संपर्क किया और एसआई ने दूसरे बोर्ड को हटाने के लिए कहा. हालांकि इसे जल्द ही हटा दिया गया, लेकिन पिछले हफ्ते तक सीएम का बोर्ड वहीं रहा. सोशल मीडिया पर इसे व्यापक रूप से साझा किए जाने के बाद, इसे 20 मीटर दूर एक नजदीकी स्थान पर ट्रांसफर कर दिया गया.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज