Home /News /nation /

केरल में ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं हुई, कोरोना पर आलोचनाओं को पिनराई विजयन ने नकारा

केरल में ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं हुई, कोरोना पर आलोचनाओं को पिनराई विजयन ने नकारा

कोरोना को लेकर आलोचनाओं पर बिफरे केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन. (फाइल फोटो)

कोरोना को लेकर आलोचनाओं पर बिफरे केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन. (फाइल फोटो)

Kerala Coronavirus Pinarayi Vijayan: मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि केरल ने कोविड-19 रोधी टीके की एक भी बूंद बर्बाद किए बिना देश के सामने एक शानदार उदाहरण प्रस्तुत किया है.

    तिरुवनंतपुरम. केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने राज्य में कोविड-19 की चुनौती से निपटने में सरकार की कथित विफलता को लेकर हो रही आलोचना को खारिज करते हुए कहा कि उन्हें आशंका है कि यह निंदा महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई में लोगों के सहयोग को कमतर करने के लिए है. केरल में कोरोना वायरस संक्रमण की बढ़ती हुई दर और नये मामलों में वृद्धि को लेकर राज्य सरकार चौतरफा आलोचना का सामना कर रही है.

    सत्तारूढ़ मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के मुखपत्रों में से एक साप्ताहिक पत्रिका ‘चिंता’ के नवीनतम संस्करण में प्रकाशित एक लेख में विजयन ने कहा कि समाज का एक वर्ग जानबूझकर महामारी के प्रबंधन संबंधी राज्य की रणनीतियों की आलोचना कर लोगों में भ्रम पैदा करने का प्रयास कर रहा है. विजयन ने कहा कि कुछ लोग आम जनता के बीच सरकार के प्रति रोष पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं और ऐसी स्थिति पैदा करना चाहते हैं, जिससे महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई कमजोर हो जाए.

    Assam : परिवहन मंत्री बोले- मनुष्य का बनाया हुआ नहीं है कोरोना वायरस, यह भगवान के कंप्यूटर से धरती पर आया

    केरल में कोविड-19 के दैनिक मामलों की संख्या 30 हजार पार करने के बाद कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के अलावा भारतीय जनता पार्टी राज्य की वामपंथी सरकार की आलोचना कर रही है. विजयन ने कहा, ‘केरल में ऑक्सीजन की कमी के कारण एक भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई थी. किसी को भी स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित नहीं किया गया है अथवा किसी को भी आपात स्थिति के दौरान अस्पताल में बिस्तर नहीं मिलने जैसी स्थिति का सामना नहीं करना पड़ा है.’

    मुख्यमंत्री ने कहा कि केरल ने कोविड-19 रोधी टीके की एक भी बूंद बर्बाद किए बिना देश के सामने एक शानदार उदाहरण प्रस्तुत किया है. केरल में कोविड-19 के कारण मृत्यु दर 0.5 प्रतिशत से भी कम है. उन्होंने कहा, ‘सरकार की आलोचना कर रहे लोग इस बात से अनभिज्ञ हैं कि देश के अन्य हिस्सों की अपेक्षा केरल में महामारी की दूसरी लहर की शुरुआत देर से हुई थी और राज्य में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिनके संक्रमित होने का खतरा अधिक है.’

    Tags: Coronavirus, Kerala, Pinarayi Vijayan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर