केरल में कोरोना वायरस के 1985 नए मामले, अब तक 4517 मरीजों की मौत

केरल के कोझिकोड स्थित एक स्कूल में निगम कर्मचारियों से कोरोना जांच के लिए सैम्पल लेते स्वास्थ्यकर्मी.  (PTI File Photo)

केरल के कोझिकोड स्थित एक स्कूल में निगम कर्मचारियों से कोरोना जांच के लिए सैम्पल लेते स्वास्थ्यकर्मी. (PTI File Photo)

Kerala Coronavirus News: राज्य सरकार की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया कि अब तक 10,78,743 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 8:02 PM IST
  • Share this:

तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मंगलवार को 1985 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 11,07,801 हो गई. वहीं 10 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 4,517 हो गई. मंगलवार को 2172 मरीज संक्रमण मुक्त हुए. राज्य सरकार की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया कि अब तक 10,78,743 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.



दूसरी ओर, देश के कुछ हिस्से में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के बीच केंद्र ने मंगलवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा कि आरटी-पीसीआर जांच, जांच-निगरानी-उपचार प्रोटोकॉल को कड़ाई से लागू करने और सभी प्राथमिकता समूहों के टीकाकरण की प्रक्रिया में तेजी लाई जाए. गृह मंत्रालय ने अप्रैल के लिए नया दिशानिर्देश जारी करते हुए कहा कि कोविड-19 के मामलों में फिर से तेजी के मद्देनजर नए संक्रमित मरीजों को जल्द से जल्द पृथक करने और समय पर उपचार करने की जरूरत है. दिशानिर्देश में कहा गया है कि राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को देश के सभी हिस्से में जांच-निगरानी-उपचार प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करना चाहिए, हर किसी द्वारा कोविड-19 के मानक प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए और सभी लक्षित समूहों को 'कवर' करने के लिए टीकाकरण बढ़ाना चाहिए.



भारत में वायरस के नए स्ट्रेन से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 795 हुई

इस बीच, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में पाए गए सार्स-सीओवी-2 वायरस के नए स्वरूपों (वेरिएंट) से भारत में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 795 हो गई है. भारत में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि 18 मार्च को सार्स-सीओवी-2 के नए स्वरूपों से संक्रमण के 400 मामले दर्ज किए गए और देश में इस प्रकार के संक्रमण के कुल 795 मामले सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने 16 मार्च को राज्यसभा में बताया था कि भारत में सार्स-सीओवी-2 वायरस के नए स्वरूपों से किसी के दोबारा संक्रमित होने का मामला भारत में अभी तक सामने नहीं आया है. ब्रिटेन में पाए गए वायरस के नए स्वरूप का भारत में पहला मामला 29 दिसंबर को सामने आया था.


एक दिन में सबसे अधिक कोविड-19 की 32.53 लाख से अधिक खुराक लगाई गई

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि सोमवार को कोविड-19 टीके की 32.53 लाख से अधिक खुराक लगायी गईं जो अब तक का एक दिन में सर्वाधिक टीकाकरण है तथा इसी के साथ 4.8 करोड़ से अधिक लोगों को टीके लग चुके हैं. टीकाकरण अभियान के 66वें दिन (22 मार्च को) टीके की 32 लाख से अधिक (32,53,095) खुराक लगाई गईं. उनमें 29,03,030 लोगों को पहली खुराक दी गई, जबकि 3,50,065 स्वास्थ्य कर्मियों एवं अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दूसरी खुराक लगाई गई. मंत्रालय के अनुसार 29,03,030 लाभार्थियों में 21,31,012 लोग 60 साल से अधिक उम्र के हैं जबकि 5,59,930 लोग 45-60 के बीच हैं जिन्हें अन्य गंभीर बीमारियां हैं. मंगलवार सुबह सात बजे तक एक अंतरिम रिपोर्ट के अनुसार टीके की अब तक 4.8 करोड़ (4,84,94,594) से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं.



पिछले 24 घंटों में कोरोना से देश में 199 मरीजों की मौत



केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया भारत में एक दिन में कोविड-19 के 40,715 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,16,86,796 हो गई. उपचाराधीन मरीजों की संख्या में भी लगातार 13वें दिन बढ़ोतरी दर्ज की गई और वह 3,45,377 हो गई है, जो कुल मामलों का 2.96 प्रतिशत है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार की सुबह आठ बजे जारी किए गए अपडेट आंकड़ों के अनुसार, देश में 199 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,60,166 हो गई. कोविड-19 से मृत्यु दर देश में 1.37 प्रतिशत है. आंकड़ों के अनुसार, देश में कुल 1,11,81,253 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. हालांकि मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर और अधिक गिरावट के साथ 95.67 प्रतिशत हो गई है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज