CPI (M) सचिव के बेटे को ED ने किया गिरफ्तार, ड्रग पैडलर के खाते में जमा की बड़ी धन राशि

सीपीआई (एम) के केरल सचिव कोडिएरी बालाकृष्णन के बेटे बिनेश कोडियरी की फाइल फोटो.
सीपीआई (एम) के केरल सचिव कोडिएरी बालाकृष्णन के बेटे बिनेश कोडियरी की फाइल फोटो.

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार बिनेश कोडियारी को दूसरी बार बेंगलुरु में ईडी कार्यालय में बुलाया गया था, जहां उससे 3 घंटे की पूछताछ के बाद ड्रग रैकेट की कथित फंडिंग के बारे में ठोस जवाब देने में विफल रहने के बाद उसे गिरफ्तार किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 3:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली/बेंगलुरु. केरल (Kerala) के सीपीआई (एम) नेता कोडियरी बालाकृष्णन के बेटे बिनेश कोडियरी (Bineesh Kodiyeri) को गिरफ्तार करने के एक दिन बाद, ईडी ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने कथित रूप से "बेहिसाब धन की बड़ी राशि" एक ड्रग पैडलर के बैंक खाते में जमा की. बिनेश कोडियारी को मादक पदार्थ मामले में गुरुवार को ईडी ने गिरफ्तार किया था, जिसके बाद स्थानीय अदालत ने उन्हें 2 नवंबर तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में भेज दिया. ईडी ने बताया कि ड्रग फंडिंग में ठोस जवाब देने में विफल रहने पर बिनेश को गिरफ्तार किया गया.

प्रवर्तन निदेशालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार बिनेश कोडियारी को दूसरी बार बेंगलुरु में ईडी कार्यालय में बुलाया गया था, जहां उससे 3 घंटे की पूछताछ के बाद ड्रग रैकेट की कथित फंडिंग के बारे में ठोस जवाब देने में विफल रहने के बाद उसे गिरफ्तार किया गया. ईडी ने कहा कि इस मामले में "ड्रग पैडलर", मोहम्मद अनूप, बिनेश का बेनिमीडर था. बेनीमीडर एक ऐसा व्यक्ति होता है जिसके नाम पर बेनामी संपत्ति रखी गई है या हस्तांतरित की गई है.





ऐसे शुरू हुई दिनेश कोडियारी की मुश्किलें
बता दें कि दिनेश कोडियारी की मुश्किल तब शुरू हुई जब बेंगलुरु ड्रग रैकेट के आरोपी अनूप मोहम्मद ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) को दिए एक बयान में उनका नाम लिया. उसने एनसीबी को बताया कि बालकृष्णन के दूसरे बेटे बिनेश कोडियरी ने उनके "व्यावसायिक उद्यम" में बहुत मदद की थी. बाद में कोडियारी का नाम मोहम्मद की कॉल लिस्ट में भी पाया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज