केरल CPM की यूथ विंग के लीडर ने कोरोना सेंटर के वॉशरूम में लगाया मोबाइल

DYFI का लीडर खुद भी कोरोना सेंटर में भर्ती था. (सांकेतिक तस्वीर)
DYFI का लीडर खुद भी कोरोना सेंटर में भर्ती था. (सांकेतिक तस्वीर)

घटना राजधानी तिरुवनंतपुरम (Thiruvananthapuram) के मुल्लुविला इलाके की है. मोबाइल फोन एक महिला ने देखा जो कोविड केयर सेंटर (Covid-19 care centre) में अपना इलाज करा रही थी. उस महिला ने इसके बारे में सेंटर के प्रबंधकों को बताया और फिर इसकी जानकारी पुलिस को दी गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 11:35 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केरल की सत्ताधारी पार्टी CPM की यूथ विंग DYFI कार्यकर्ता को कोविड सेंटर (Covid Centre) के वॉशरूम में मोबाइल रखने के लिए गिरफ्तार किया गया है. घटना राजधानी तिरुवनंतपुरम के मुल्लुविला इलाके की है. मोबाइल फोन एक महिला ने देखा जो कोविड केयर सेंटर में अपना इलाज करा रही थी. उस महिला ने इसके बारे में सेंटर के प्रबंधकों को बताया और फिर इसकी जानकारी पुलिस को दी गई.

यूथ लीडर भी कोरोना सेंटर में था भर्ती
महिला की शिकायत के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि वो टेलिफोन 26 वर्षीय शालू के नाम पर है. शालू DYFI की चेंगल यूनिट का प्रसिडेंट है. वो भी कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उस कोविड केयर सेंटर में भर्ती था. उसे गुरुवार को निगेटिव पाए जाने के बाद सेंटर से डिस्चार्ज किया जाना था लेकिन तब तक ये मामला सामने आया. अब पुलिस ने उसे पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है.


केरल में तेजी से बढ़े हैं कोरोना मामले


गौरतलब है कि मार्च के बाद शुरुआती महीनों में केरल ने कोविड-19 को अपने यहां रोकने में काफी हद तक सफलता पाई थी. राज्य की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा की इसके लिए काफी तारीफ हुई थी. लेकिन जून से अनलॉकिंग की प्रक्रिया शुरू होने के बाद राज्य में बहुत तेजी के साथ नए मामलों में इजाफा हुआ. राज्य में अब तक कोरोना के कुल 154456 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें 107850 लोग रिकवर होकर घर भी वापस जा चुके हैं. इस वक्त एक्टिव केस की संख्या 45993 है जबकि 613 लोगों ने महामारी की वजह से जान गंवाई है. राज्य में कोरोना डेथ रेट संक्रमण की तुलना में काफी कम रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज