Assembly Banner 2021

Kerala Election: मेट्रोमैन बोले- CM बनने के लिए नहीं, लोगों की सेवा के लिए ज्वॉइन की BJP

बीजेपी की टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं ई श्रीधरन. (File pic)

बीजेपी की टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं ई श्रीधरन. (File pic)

Kerala elections 2021: मेट्रोमैन ई श्रीधरन (E Sreedharan) केरल की पलक्‍कड़ सीट से बीजेपी की टिकट पर चुनाव मैदान में हैं. उन्‍होंने कहा, 'मेरा राजनीति ज्‍वॉइन करने का मकसद लोगों की सेवा करना है. मैं जनता की सेवा करना चाहता हूं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 7:04 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केरल विधानसभा चुनाव (Kerala Assembly Elections 2021) में बीजेपी (BJP) के मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी और ‘मेट्रोमैन’ के नाम से देशभर में लोकप्रिय ई श्रीधरन (E Sreedharan) आजकल चुनाव प्रचार में व्‍यस्‍त हैं. उन्‍हें बीजेपी ने केरल की पलक्‍कड़ विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा है. हालांकि राजनीति को लेकर उनकी सोच कुछ अलग है. उनका कहना है कि शायद बीजेपी चाहती है कि जब वह सत्‍ता में आए तो मैं मुख्‍यमंत्री बनूं. लेकिन ये बातें अधिक मायने नहीं रखती हैं. मैंने मुख्‍यमंत्री बनने के लिए पार्टी को ज्‍वाइन नहीं किया है. मैं इसे इसलिए ज्‍वाइन किया है ताकि मैं लोगों की सेवा कर सकूं. मैं अपने अनुभवों के जरिये लोगों की मदद कर सकूं, यही मेरा मकसद है.

दैनिक भास्‍कर में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार ई श्रीधरन का कहना है कि केरल में लव जिहाद अधिक है. वह कहते हैं, 'मैंने कभी लव जिहाद का मुद्दा नहीं उठाया. किसी ने जानबूझकर इससे मेरा नाम जोड़ा है. सच में मैंने इस तरह के सवाल कभी नहीं उठाए. मेरा एजेंडा अभी भी डेवलपमेंट का ही है. मेरा एजेंडा देश में समृद्धि और औद्योगिकीकरण लाने का है. इसमें बताइए लव जिहाद कहां है.'

ई श्रीधरन ने कहा, 'पलक्‍कड़ की जनता के अलावा अन्‍य लोगों के लिए मेरा संदेश है कि अब वक्त आ गया है कि पढ़े लिखे और समझदार लोग राजनीति में आएं, ताकि डर्टी पॉलिटिक्स खत्म हो. अगर केरल की बात करें तो यहां सबकुछ पार्टी के लोगों के लिए ही हो रहा है, उन्हीं लोगों के पास सारा पैसा आ रहा है. इसलिए देश में कल्चर ऑफ पॉलिटिक्स को बदलने की बहुत जरूरत है. मेरा लोगों को यही संदेश है कि प्रत्येक व्यक्ति जो देश से प्यार करता है, उसे आज जिस तरह की राजनीति है, उसे बदलने के बारे में जरूर सोचना चाहिए.

मेट्रोमैन ने कहा, 'मेरा राजनीति ज्‍वाइन करने का मकसद लोगों की सेवा करना है. मैं जनता की सेवा करना चाहता हूं. अगर आप लोगों की सेवा करना चाहते हैं तो उसमें उम्र की कोई सीमा नहीं होती है. आप 100 साल की उम्र में भी लोगों की सेवा कर सकते हैं.' उनका कहना है, 'मैं लोगों से कहता हूं कि यदि वे मुझ पर विश्वास करते हैं तो ही वोट करें, अगर नहीं करते हैं तो मुझे वोट न करें.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज