Kerala New Cabinet: मंत्री नहीं बनाए जाने पर पूर्व हेल्थ मिनिस्टर के.के. शैलजा ने क्या कहा, जानें

के.के. शैलजा. (फाइल फोटो)

के.के. शैलजा. (फाइल फोटो)

Kerala New Cabinet: केरल में पिनराई विजयन के नेतृत्व में माकपा नीत वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) सरकार का तिरुवनंतपुरम के सेंट्रल स्टेडियम में 20 मई को दिन के साढ़े तीन बजे शपथ ग्रहण समारोह होगा.

  • Share this:

तिरुवनंतपुरम. केरल के नए मंत्रिमंडल पर राज्य की पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के.के. शैलजा ने मंगलवार को खुशी जताई और कैबिनेट में शामिल नहीं किए जाने पर उन्होंने कहा कि हर किसी को अवसर मिलना चाहिए. शैलजा ने कहा, यह अच्छा है कि नया मंत्रिमंडल आ रहा है. हर किसी को मौका मिलना चाहिए. पिछली बार पार्टी ने मुझे मंत्री बनाने का फैसला लिया था. यह मेरे लिए एक अच्छा अनुभव रहा, लेकिन कई दूसरे लोग भी हैं.'


केरल में पिनराई विजयन के नेतृत्व में माकपा नीत वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) सरकार का यहां सेंट्रल स्टेडियम में 20 मई को दिन के साढ़े तीन बजे शपथ ग्रहण समारोह होगा, जिसमें राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान मुख्यमंत्री समेत 21 मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे. हालांकि, इस राज्य कैबिनेट में स्वास्थ्य मंत्री रहीं के.के. शैलजा का नाम नहीं है. आपको बता दें कि राज्य में कोरोना वायरस को लेकर किए गए अपने प्रयासों की वजह से उनकी खूब तारीफ हुई थी.


केरल मंत्रिमंडल में अगस्टाइन केरल कांग्रेस मणि के कोटे से होंगे शामिल

दूसरी ओर, जोस के मणि की अगुवाई वाली केरल कांग्रेस (एम) ने प्रदेश की नई एलडीएफ मंत्रिमंडल में शामिल करने के लिये पार्टी के वरिष्ठ विधायक रोशी अगस्टाइन का नाम दिया है. पार्टी ने कहा कि मणि ने एक पत्र मुख्यमंत्री पिनराई विजयन तथा एलडीएफ के संयोजक ए विजयराघवन को सौंपा है और उन्हें नए मंत्रिपरिषद में अगस्टाइन को शामिल करने के पार्टी के निर्णय से अवगत कराया है. पार्टी ने अपने उप नेता एन जयराज को मुख्य सचेतक के रूप में नामांकित किया है, यह पद कैबिनेट स्तर का है. विधानसभा चुनाव में पाला विधानसभा सीट से मणि की हार के बाद अगस्टाइन को मंत्री बनने का मौका मिला है. उन्हें यूडीएफ के प्रतिद्वंद्वी और विधायक मणि सी कप्पन के हाथों हार का सामना करना पड़ा था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज