केरल में हर तरफ तबाही के निशान, सैलाब में बही सड़कें, शहर में चलीं नावें

सेना को राहत और बचाव के काम में लगाया गया है. फिर भी हालात काबू में आते नहीं दिख रहे हैं. जगह जगह लोगों को पीने के लिए पानी तक की परेशानी हो रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2018, 7:24 AM IST
  • Share this:
केरल में बाढ़ और बारिश से हालात बहुत ही खराब है. हर ओर तबाही नजर आ रही है. कहा जा रहा है कि 1924 के बाद पहली बार राज्य में ऐसे हालात पैदा हुए हैं. कई शहरों में पानी भर गया है और लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए नाव का सहारा लेना पड़ रहा है. कई जगहों पर तो लोग अपने घरों की छत पर कैद होकर रह गए हैं.

सेना को राहत और बचाव के काम में लगाया गया है. फिर भी हालात काबू में आते नहीं दिख रहे हैं. जगह जगह लोगों को पीने के लिए पानी तक की परेशानी हो रही है. कोच्चि एयरपोर्ट फिलहाल 26 तक के लिए बंद कर दिया गया है. प्रधानमंत्री खुद स्थिति पर नजर रखे हैं और राज्य का दौरा भी करने वाले हैं.

ये भी पढ़ें- जानें केरल में क्यों हुई ऐसी तबाही



नौसेना की दक्षिणी कमान ने राहत के लिए ऑपरेशन मदद चला रखा है. 58 से अधिक बचाव और राहत दल को विभिन्न सुविधाओं के साथ तैनात किया गया है. सेना के हेलीकॉप्टरों के अलावा एनडीआरएफ की नावों और मछुआरों का बड़ा दल भी बचाव के काम में जुटा हुआ है.



देवताओं की भूमि के नाम से मशहूर राज्य में हर ओर सैलाब का असर दिख रहा है. जगह-जगह सड़कें कट कर गायब हो गई हैं. भूस्खलन से सड़कें टूट गई हैं. वाहन उनमें तकरीबन धंस गए हैं. बहुत से लोग बेघर हो गए हैं. बाढ़ से प्रभावित लोगों के लिए भोजन और पानी की व्यवस्था वास्तव करने में राज्य सरकार को भारी मशक्कत करनी पड़ रही है. हांलाकि मौसम विभाग की मानें तो अभी एक दो दिनों तक हालात में कोई बड़ा परिवर्तन नहीं होता दिख रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading