Home /News /nation /

Kerala Flood: केरल में बारिश और बाढ़ से अब तक 10 की मौत, गृह मंत्री बोले- स्थिति की निगरानी जारी

Kerala Flood: केरल में बारिश और बाढ़ से अब तक 10 की मौत, गृह मंत्री बोले- स्थिति की निगरानी जारी

 बाढ़  के बाद केरल में बिगड़े हालात (Photo by Appu S. Narayanan / AFP)

बाढ़ के बाद केरल में बिगड़े हालात (Photo by Appu S. Narayanan / AFP)

Kerala Flood: दक्षिण और मध्य केरल में भारी बारिश के कारण राज्य के कई हिस्सों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन के कारण 16 लोगों के घायल होने और लापता होने की आशंका है.

    नई दिल्ली/तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala) में भारी बारिश और बाढ़ (Heavy Rain and flood in Kerala) के चलते अब तक कम से कम 10 लोगों की मौत हो चुकी है. केंद्र के सहयोग से राज्य सरकार भी राहत और बचाव कार्य में लगी हुई है. इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि केंद्र सरकार 24 घंटे निगाह रखे हुए है. रविवार को एक ट्वीट में शाह ने कहा ‘हम भारी बारिश और बाढ़ के मद्देनजर केरल के कुछ हिस्सों में स्थिति की लगातार निगरानी कर रहे हैं. केंद्र सरकार जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए हर संभव मदद करेगी. बचाव कार्यों में मदद के लिए NDRF की टीमें पहले ही भेजी जा चुकी हैं. हम सभी नागरिकों की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहे हैं.’

    गौरतलब है कि दक्षिण और मध्य केरल में भारी बारिश के कारण राज्य के कई हिस्सों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन के कारण 16 लोगों के घायल होने और लापता होने की आशंका है, जबकि 16 लोगों के मारे जाने की आशंका है. कूटिकल में 7 मौतें, कांजीरापल्ली में एक मौत और थोडुपुझा में 2 मौतों की सूचना है.

    राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) ने केरल के दक्षिण और मध्य हिस्सों में 11 टीमों को तैनात किया है. NDRF के महानिदेशक एस एन प्रधान ने एक ट्वीट में कहा कि केरल के कई जिलों में बारिश और संभावित बाढ़/जल भराव के लिए रेड अलर्ट के मद्देनजर टीमों को भेजा जा रहा है. एक-एक टीम मलप्पुरम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम, त्रिशूर, पठानमथिट्टा, पलक्कड़, कोट्टायम, कन्नूर और कोल्लम में तैनात की जाएगी जबकि दो टीमें इडुक्की में तैनात की जाएंगी.

    सीएम बोले- स्थिति गंभीर है…
    उधर मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने घोषणा की कि 18 अक्टूबर  से खुलने वाले कॉलेज अब केवल 20 अक्टूबर से खुलेंगे. साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि सबरीमाला तीर्थयात्रा 19 अक्टूबर तक टाल दी जाएगी.

    पठानमथिट्टा, कोट्टायम, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर और पलक्कड़ जिलों को रेड अलर्ट पर रखा गया है. मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी परावूर में  38, मुवत्तुपुझा (89.5 मिमी), पल्लुरथी (34 मिमी) और उत्तरी केरल जिले के नीलेश्वरम में रात 8.30 बजे तक 125.5 मिमी बारिश हुई. मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा, ‘स्थिति गंभीर है.’ हालांकि, उन्होंने कहा कि हालिया मौसम पूर्वानुमान से संकेत मिल रहे हैं कि स्थिति और खराब नहीं होने वाली है.

    Tags: Amit shah, Kerala, Kerala Rainfall, Thiruvananthapuram

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर