केरल: बकरीद में बेचने के लिए खरीदे थे कपड़े, सारा बाढ़ पीड़ितों में बांट दिए

केरल: बकरीद में बेचने के लिए खरीदे थे कपड़े, सारा बाढ़ पीड़ितों में बांट दिए
नौशाद ने अपने इस कदम से समाज को सकारात्मक संदेश दिया है.

कपड़ा व्यापारी नौशाद (Naushad) ने बाढ़ राहत (Flood Relief) अभियान के लिए पांच बोरी कपड़े दिए. इनमें हर तरह के कपड़े थे. हर उम्र के लोगों के लिए. ये कपड़े नौशाद ने ईद (Eid) के अवसर पर बाजार में बेचने के लिए खरीदे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2019, 2:29 PM IST
  • Share this:
केरल (Kerala) में लगातार बारिश का कहर जारी है. सोशल मीडिया पर एक स्थानीय व्यापारी द्वारा किया गया एक शानदार काम ने लोगों का दिल जीत लिया है. एर्नाकुलम (Ernakulam) में मट्टनचेरी में कपड़े बेचने वाला नौशाद (Naushad) ने बकरीद (Bakrid) के त्योहार पर अपने सारे कपड़े राहत केंद्रों को दे दिया है. बकरीद के दौरान नौशाद के कपड़ों को वो लोग पहनेंगे, जिन्होंने बाढ़ में अपना सब कुछ खो दिया है.

राजेश शर्मा ने ही नौशाद का वीडियो फेसबुक पर डाला था.


राजेश शर्मा के नेतृत्व में वॉलंटियर्स का एक समूह मालाबार क्षेत्र में भेजे जाने के लिए राहत सामग्री इकट्ठा कर रहे थे, मालाबार क्षेत्र विनाशकारी बाढ़ और भूस्खलन के कारण व्यापक क्षति का सामना कर रहा है. इनके बारे में जानने वाले नौशाद ने उन्हें अपनी दुकान पर बुलाया और सभी नए कपड़े दान कर किए. इनमें हर तरह के कपड़े थे. हर उम्र के लोगों के लिए. पर उनमें ज्यादातर बच्चों और महिलाओं के लिए थे. ये कपड़े नौशाद ने ईद के अवसर पर बाजार में बेचने के लिए खरीदे थे.



वीडियो में नौशाद ने बताई दिल की बात
राजेश ने रविवार शाम को इस घटना को बयान करते हुए फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट किया. जिसके बाद से ये क्लिप पूरे सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. नौशाद इस वीडियो में कह रहा रहा है, "जब हम इस दुनिया को छोड़ कर जाएंगे तो हमारे साथ कुछ नहीं जाने वाला है. जरूरतमंद लोगों की मदद करना ही मेरी कमाई है. कल बकरीद है, मैं इसे इसी भावना के साथ मना रहा हूं." नौशाद ने बाढ़ राहत अभियान के लिए पांच बोरी कपड़े दिए हैं.



लोगों ने नौशाद के इस कदम को सराहा

केरल के सार्वजनिक निर्माण मंत्री जी सुधाकरन ने नौशाद की और कहा कि नौशाद ने समाज को एक बहुत ही सकारात्मक संदेश दिया है. मलयालम फिल्म स्टार आसिफ अली ने भी नौशाद की निस्वार्थ कदम की सराहना की. अली ने फेसबुक पर लिखा, "कोई भी हमें तब तक विफल नहीं कर सकता जब तक नौशाद जैसे लोग हमारे बीच हैं, जो हमारी मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं."

जिला कलेक्टर ने भी की नौशाद की प्रशंसा

एर्नाकुलम के जिला कलेक्टर एस सुहास ने भी नौशाद की प्रशंसा की. सुहास ने कहा कि उन्होंने नौशाद से फोन पर बात की. बचाव और राहत कार्य के बाद वो एक बार उनसे मुलाकात करेंगे. केरल में बारिश का कहर लगातार जारी है, 2.27 लाख से अधिक लोगों ने 1,551 राहत शिविरों में शरण ली है.
मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन, जिन्होंने रविवार को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बाढ़ की स्थिति की समीक्षा की. उन्होंने ने कहा कि 8 अगस्त से बारिश से संबंधित घटनाओं का आंकड़ा 60 को पार कर गया है.

ये भी पढ़ें:
केरल में 72, कर्नाटक में 40 की मौत, उत्तराखंड में दो लोग बहे

भारत ने इस चीज में दी US को मात, ट्रंप पर भारी पड़ा अपना दांव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज