सोना तस्करी: निलंबित IAS अधिकारी शिवशंकर से NIA ने 10 घंटे से ज्यादा पूछताछ की

सोना तस्करी: निलंबित IAS अधिकारी शिवशंकर से NIA ने 10 घंटे से ज्यादा पूछताछ की
मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के पूर्व प्रधान सचिव से NIA ने 10 घंटे से ज्यादा बातचीत की (सांकेतिक फोटो)

सोमवार को पूछताछ के बाद शिवशंकर को कोच्चि (Kochi) में ही रुकने को कहा गया था, हालांकि आज उन्हें वापस अपने गृहनगर (Hometown) तिरुवनंतपुरम (Thiruvananthapuram) जाने की इजाजत दे दी गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 28, 2020, 11:56 PM IST
  • Share this:
कोच्चि. केरल (Kerala) में सनसनीखेज सोना तस्करी मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (National Investigation Agency- NIA) ने निलंबित वरिष्ठ आईएएस अधिकारी (suspended senior IAS officer) एम शिवशंकर से मंगलवार को 10 घंटे से भी ज्यादा समय तक पूछताछ की. इसके बाद, जांच एजेंसी ने देर शाम उन्हें जाने की इजाजत दे दी. मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (CM Pinarayi Vijayan) के पूर्व प्रधान सचिव सुबह करीब 10 बजे जांच एजेंसी के दफ्तर पहुंचे और लगातार दूसरे दिन चली लंबी पूछताछ के बाद रात करीब साढ़े आठ बजे वहां से निकले.

सोमवार को पूछताछ के बाद शिवशंकर को कोच्चि (Kochi) में ही रुकने को कहा गया था, हालांकि आज उन्हें वापस अपने गृहनगर तिरुवनंतपुरम (Thiruvananthapuram) जाने की इजाजत दे दी गई. शिवशंकर के वकील ने कहा कि उन्हें ऐसा लगता है कि आज की पूछताछ (investigation) के बाद वह तिरुवनंतपुरम के लिये रवाना हो गए हैं. हालांकि, वकील (lawyer) ने कहा कि मामले की जांच कर रही एजेंसी किसी भी व्यक्ति को तलब कर सकती है.

हफ्ते में तीसरी बार की गई ऐसी पूछताछ
वकील ने कहा कि जांच अभी शुरुआती चरण में है और उनके मुवक्किल एनआईए जांच में सहयोग जारी रखेंगे. पिछले एक हफ्ते में यह तीसरा मौका है, जब राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने इस अधिकारी से पूछताछ की है. घटना में नाम आने के बाद अधिकारी को मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के प्रधान सचिव तथा प्रदेश के सूचना प्रौद्योगिकी सचिव के पद से हटा दिया गया था. इससे पहले उन पर मामले की एक मुख्य महिला आरोपी के साथ संबंध होने का आरोप लगाया गया था.
अधिकारी से सोमवार को नौ घंटे तक पूछताछ की गई थी और मंगलवार को दोबारा जांच एजेंसी के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया गया था. इससे पहले एनआईए ने तिरुवनंतपुरम के पेरूरकाडा पुलिस क्लब में 23 जुलाई को शिवशंकर से पांच घंटे तक पूछताछ की थी. सीमा शुल्क विभाग भी पूर्व में उनसे पूछताछ कर चुका है.



यह भी पढ़ें: राफेल को रिसीव करेंगे एयरफोर्स चीफ आरकेएस भदौरिया, एयरबेस पर बढ़ी सुरक्षा

5 जुलाई को जब्त किया गया था 30 किलो सोना
तिरुवनंतपुरम में संयुक्त अरब अमीरात के वाणिज्यिक दूतावास के एक राजनयिक के नाम पर राजनयिक सामान के माध्यम से सोने की तस्करी की कोशिश के मामले में मुख्य आरोपी सपना सुरेश के साथ संबंध होने के आरोप के बाद शिवशंकर के खिलाफ कार्रवाई की गयी थी. सीमा शुल्क विभाग ने पांच जुलाई को 15 करोड़ रुपये मूल्य का 30 किलोग्राम सोना जब्त किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading