अपना शहर चुनें

States

केरल में सीपीएम नेता ने महिला IAS को कहा 'बिना दिमाग वाली'

देवीकुलम के विधायक राजेंद्रन
देवीकुलम के विधायक राजेंद्रन

राजेंद्रन ने कहा, ‘उन्होंने (महिला आईएएस) सिर्फ कलेक्टर बनने के लिए पढ़ाई की है. इन लोगों के पास काफी कम दिमाग होता है.'

  • News18.com
  • Last Updated: February 11, 2019, 8:59 AM IST
  • Share this:
नीतू रघुकमार
केरल के मन्‍नार में मार्क्‍सवादी कम्‍युनिस्‍ट पार्टी (सीपीएम) के एक विधायक महिला आईएएस अधिकारी पर सार्वजनिक तौर पर टिप्पणी को लेकर विवादों में घिर गए हैं. विधायक ने मन्नार में एक व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स में अनधिकृत निर्माण रोकने का प्रयास कर रही युवा महिला आईएएस अफसर के लिए कहा कि उनके पास दिमाग नहीं है.

घटना शुक्रवार को उस वक्त सामने आई जब कुछ टेलीविजन चैनलों ने देवीकुलम विधायक एस राजेंद्रन के एक वीडियो फुटेज को प्रसारित किया. इसमें सब कलेक्टर डॉक्टर रेणु राज के लिए विधायक दिमाग न होने वाली टिप्पणी कर रहे हैं. राजेंद्रन ने कहा, ‘यह पहली बार है जब सरकार ही सरकार से एनओसी की मांग कर रही है. उन्होंने (महिला आईएएस) सिर्फ कलेक्टर बनने के लिए पढ़ाई की है. इन लोगों के पास काफी कम दिमाग होता है. क्या उन्हें स्केच और प्‍लान की जानकारी नहीं हासिल करनी चाहिए थी.' विधायक ने वहां मौजूद लोगों से कहा कि एक कलेक्टर पंचायत के निर्माण में दखल नहीं दे सकती है. यह एक लोकतांत्रिक देश है.

शाह फैसल: आतंकियों ने कर दी थी पिता की हत्या, मोमबत्ती में पढ़कर UPSC में किया था टॉप
देवीकुलम की सब-कल रेणु राज ने न्यूज 18 को बताया, 'अवैध निर्माण को लेकर पंचायत को 6 फरवरी को एक मेमो (ज्ञापन) जारी किया गया था, लेकिन यहां काम अब भी चल रहा है. घटना के बाद शुरू में मैं काफी निराश हो गई थी. मैं तो सिर्फ अपनी ड्यूटी कर रही थी, लेकिन मुझे अपने वरिष्ठ अधिकारियों और मीडिया से काफी समर्थन मिला.'



सब-कलेक्टर के समर्थन में उतरे राजस्व मंत्री ने कहा, 'सब-कलेक्टर द्वारा लिया गया फैसला कानून के हिसाब से सही था. जब वह कानून के अनुसार कार्रवाई कर रही हैं तो हमें उनका समर्थन करना चाहिए.'

बता दें कि 2010 में केरल हाईकोर्ट ने अपने एक फैसले में कहा था कि मुन्नार में किसी भी तरह के नए निर्माण के लिए 'नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट' यानी 'एनओसी' की ज़रूरत होगी.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज