केरल विमान हादसा: एयरफोस में सोर्ड ऑफ ऑनर से नवाजे गए थे कैप्टन वसंत साठे, मिग-21 भी उड़ाने का था अनुभव

केरल विमान हादसा: एयरफोस में सोर्ड ऑफ ऑनर से नवाजे गए थे कैप्टन वसंत साठे, मिग-21 भी उड़ाने का था अनुभव
केरल के कोझिकोड एयरपोर्ट पर विमान हादसे में पायलट कैप्टन दीपक वसंत साठे की मौत हो गई है. (फाइल फोटो)

Kozhikode Airport Plane Crash: इस विमान दुर्घटना में भारतीय वायुसेना के पूर्व पायलट कैप्टन दीपक वसंत साठे (Captain Deepak Vasant Sathe) समेत दोनों पायलटों की मौत हो गई है. जबकि एक दर्जन से ज्‍यादा यात्री भी अपनी जान गंवा चुके है. मौत का आंकड़ा अभी लगातार बढ़ रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 8, 2020, 8:13 AM IST
  • Share this:
कोझिकोड. एअर इंडिया एक्सप्रेस (Air India Express) का एक विमान यहां कोझिकोड हवाईअड्डे (Kozhikode airport) की हवाईपट्टी पर फिसलकर करीब 50 फीट गहरी खाई में गिरकर दो हिस्सों में टूट गया. पुलिस सूत्रों ने कहा कि विमान में 191 लोग सवार थे. उन्होंने कहा कि कई लोगों को पास के अस्पतालों में पहुंचाया गया है और इनमें से कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है. डीजीसीए (DGCA) के एक बयान में कहा गया कि एआईईएएक्सबी1344, बी737 दुबई-कालीकट उड़ान जिसमें 191 लोग सवार थे दुर्घटना का शिकार हुई है. इस विमान दुर्घटना में भारतीय वायुसेना के पूर्व पायलट कैप्टन दीपक वसंत साठे (Captain Deepak Vasant Sathe) समेत दोनों पायलटों की मौत हो गई है. जबकि एक दर्जन से ज्‍यादा यात्री भी अपनी जान गंवा चुके है. मौत का आंकड़ा अभी लगातार बढ़ रहा है.

सूत्रों के अनुसार, कैप्टन साठे एक पूर्व वायु सेना पायलट थे. कैप्‍टन साठे 'Sword of honor' विजेता थे और वायु सेना अकादमी ने उन्‍हें सम्‍मानित किया था. उन्‍होंने फाइटर पायलट का कार्यकाल पूरा किया था. वह एचएएल के टेस्‍टेड पायलट भी थे. वह 310s और 777s पर थे और उन्‍हें एआई एक्‍सप्रेस के लिए चुना गया था. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) को मौके पर जाने के निर्देश दिये हैं. शाह ने ट्वीट किया, 'केरल के कोझीकोड में एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान की दुर्घटना के बारे में जानकर व्यथित हूं. नडीआरएफ को यथाशीघ्र मौके पर पहुंचकर राहत अभियान में सहायता का निर्देश दिया है.'

डीजीसीए के बयान में कहा गया कि हवाईपट्टी-10 पर उतरने के बाद विमान रुका नहीं और हवाईपट्टी के अंत तक पहुंचकर खाई में गिरने के बाद दो हिस्सों में टूट गया. यात्रियों में 10 नवजात, दो पायलट और चालक दल के चार सदस्य भी शामिल हैं. विमान शाम करीब सात बजकर 40 मिनट पर हवाईपट्टी पर उतरा. विमानन कंपनी के एक प्रव्कात ने कहा कि विमान संभवत: हवाईपट्टी से फिसल गया. बचाव अभियान जारी है. हादसे के वक्त वहां भारी बारिश हो रही थी. मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि पुलिस और दमकल कर्मियों को राहत और बचाव अभियान के लिये सभी कदम उठाने को कहा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज