• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • केरल: दोनों हाथों के बिना जन्मे शख्स के पैर में लगाई गई कोरोना की वैक्सीन

केरल: दोनों हाथों के बिना जन्मे शख्स के पैर में लगाई गई कोरोना की वैक्सीन

प्रणव बालासुब्रमण्यम (फ़ाइल फोटो)

प्रणव बालासुब्रमण्यम (फ़ाइल फोटो)

Kerala: साल 2019 में उन्होंने अपने जन्मदिन पर बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए अपनी बचत से 5,000 रुपये की राशि मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष (CMDRF) को सौंपी थी.

  • Share this:
    कोच्चि. दुनिया भर में इन दिनों कोराना को मात देने के लिए वैक्सीन (Covid-19) लगाई जा रही है. आमतौर पर वैक्सीन की डोज़ किसी भी शख्स के बाहों पर लगाई जाती है. लेकिन केरल में पहली बार कोरोना का टीका हाथ के बदले पैर में लगाया गया. दरअसल प्रणव बालासुब्रमण्यम नाम के इस शख्स का जन्म बिना हाथ के ही हुए थे. लिहाज़ा उन्हें पैर पर ही कोरोना का टीका लगाया गया.

    अलाथुर के रहने वाले प्रणव जब टीकाकरण केंद्र पर पहुंचे तो हर कोई कोई हैरान रह गया. किसी को कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि उन्हें वैक्सीन कहां लगाई जाएगी. लेकिन जल्द ही उन्हें स्वास्थ्य विभाग से अनुमति मिली और उनके पैर पर वैक्सीन लगाई गई. वैक्सीनेशन सेंटर पर प्रणव साइकिल चला कर पहुंचे थे.

    बाढ़ पीड़ितों की मदद भी की थी
    ये पहली बार नहीं है जब बालासुब्रमण्यम ने सुर्खियां बटोरीं हो. साल 2019 में उन्होंने अपने 21वें जन्मदिन पर मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के साथ एक सेल्फी ली थी. दरअसल उस वक्त उन्होंने बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए अपनी बचत से 5,000 रुपये की राशि मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष (CMDRF) को सौंपी थी. केरल में बाढ़ के दौरान उन्होंने कई राहत कैंपों का भी दौरा किया था.



    कलाकर हैं प्रणव
    प्रणव के पास बीकॉम की डिग्री है. वो एक कलाकार भी हैं. पेंटिंग बेच कर वो अपना खर्चा चलाते हैं. बचपन में उनका सपना था कि उन्हें कार चलाने का लाइसेंस मिल जाए. लेकिन ऐसा हुआ नहीं. इस बीच केरल में कोरोना ने 17,466 नए मामले दर्ज किए गए. यहां पॉजिटिविटी रेट 12.3 फीसदी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज