केरल में बढ़ सकती हैं बीजेपी की मुश्किलें, JRS को NDA में दोबारा शामिल होने के लिए लाखों रुपये देने का आरोप

भाजपा की केरल इकाई के अध्यक्ष के. सुरेंद्रन की एक ऑडियो क्लिप भी सामने आई है. (फ़ाइल फोटो)

Kerala BJP: इस टेप में सुरेंद्रन को ये कहते हुए सुना जा सकता है कि JRS को 25 लाख रुपये दिए जाएंगे. साथ ही ये भी कहा गया कि ये सौदा भाजपा के राज्य आयोजन सचिव एम गणेश की जानकारी में थी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. केरल में बीजेपी (Kerala BJP) की मुश्किलें बढ़ सकती है.  इसकी वजह एक नया ऑडियो टेप है जिसके जरिए एक राजनीतिक दल को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में वापसी के लिए लाखों रुपये देने का दावा किया जा रहा है. आरोप है कि इस साल विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी ने अपने सहयोगी जनाधिपति राष्ट्रीय सभा (JRS) को NDA में वापस आने के लिए लिए पैसे दिए थे. JRS के एक नेता ने बुधवार को पुलिस को बताया कि JRS पार्टी की अध्यक्ष सीके जानू को 25 लाख रुपये का भुगतान किया गया था. इसके अलावा जानू को NDA में आने के लिए अलग से भी 10 लाख रुपये दिए गए थे.

    JRS की राज्य कोषाध्यक्ष प्रसीता अझिकोड ने बुधवार को वायनाड में क्राइम ब्रांच में गवाही दी. बता दें कि इस मामले में 17 जून को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के. सुरेंद्रन के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था. ये मामला धारा 171E यानी रिश्वत देने की पेशकश के तहत दर्ज किया गया.

    क्या है इस ऑडियो क्लिप में?
    अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक प्रसीता ने अपने और सुरेंद्रन के बीच एक कथित बातचीत का एक ऑडियो क्लिप भी जारी किया. इस टेप में सुरेंद्रन को ये कहते हुए सुना जा सकता है कि JRS को 25 लाख रुपये दिए जाएंगे. साथ ही ये भी कहा गया कि ये सौदा भाजपा के राज्य आयोजन सचिव एम गणेश की जानकारी में थी. ऑडियो क्लिप में सुरेंद्रन कह रहे है, 'मैंने आपकी पार्टी को 25 लाख रुपये देने का इंतज़ाम किया है. ये आपकी पार्टी के लिए है और अन्य मामलों को मंडलम समिति (सुल्तान बथेरी विधानसभा क्षेत्र जहां जानू ने एनडीए उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा) द्वारा संचालित किया जाएगा.'

    नकद में दिए सारे पैसे
    जांच दल के सामने पेश होने के बाद प्रसीता ने आरोप लगाया, '25 लाख रुपये, सीके जानू को नकद में दिए गए थे. ये भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के इस दावे के खिलाफ है कि पार्टी ने विधानसभा चुनाव के दौरान केवल डिजिटल लेनदेन किया था. हालांकि पार्टी के चुनावी फंड के लिए पैसे का भुगतान किया गया था, लेकिन जानू ने इसका इस्तेमाल चुनावी प्रचार के लिए नहीं किया.'

    ये भी पढ़ें:- गहलोत और पायलट गुट में रार जारी, MLA इंद्रराज बोले- पायलट बाहरी नहीं, भारी हैं

    वायनाड में हुआ सौदा
    प्रसीता के अनुसार, 25 लाख रुपये का कथित नकद सौदा 26 मार्च को वायनाड में हुआ, जहां वह भी मौजूद थीं. उन्होंने कहा, 'भाजपा वायनाड के जिला सचिव प्रशांत मालवयाल ने जानू को पैसा सौंपा. मंदिर से प्रसाद की आड़ में कपड़े के थैले में नकदी लाया गया था. बैग में पैसों के ऊपर पौधे रखे हुए थे और जब हमारे सचिव ने इसके बारे में पूछा तो उन्होंने (प्रशांत) ने कहा कि ये उम्मीदवार के लिए एक पवित्र चीज है.' उसने ये भी कहा कि ये पैसे के बारे में सुरेंद्रन के साथ उसकी कथित बातचीत के एक दिन बाद हुआ.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.